Published On : Tue, Jul 27th, 2021
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

गोंदिया: लापता महिला की लाश पांगोली नदी में मिली

खोज बचाव दल ने बोट ओर रस्से की मदद से शव को बाहर निकाला

गोंदिया 1 माह पूर्व रहस्यमय ढंग से लापता हुई महिला की लाश 27 जुलाई मंगलवार के दोपहर पांगोली नदी में भीमघाट के पास झाड़ियों में अटकी मिली तो सनसनी फैल गई।

मंगलवार की दोपहर 12:30 बजे के लगभग पांगोली नदी में महिला का तैरता शव देखकर नदी पर मछली पकड़ने गए इलाके के नागरिकों ने खोज व बचाव दल , आपदा व्यवस्थापन कक्ष, ( जिलाधिकारी कार्यालय ) को सूचित किया , बचाव दल ने घटना की जानकारी सिटी पुलिस थाने को दी।
मौके पर पहुंचे बचाव दल ने लाश पांगोली नदी के पुल के 200 मीटर दूर भीम घाट के निकट झाड़ियों में फंसी देखी।

शोध बचाव पथक द्वारा मोटर बोट और रबर बोट की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया तथा काफी मशक्कत के बाद रस्से की मदद से लाश को पांगोली नदी के किनारे तक लाया गया।

गुलाबी रंग के कपड़ों में लिपटी लाश क्षत- विक्षत ,सड़ी गली अवस्था में होने से कयास लगाए जा रहे हैं कि शव कुछ दिन पुराना हो सकता है ?
पुलिस ने शिनाख्त हेतु आसपास के लोगों से सूचना एकत्र की इसी दौरान छोटा गोंदिया निवासी एक ठाकरे परिवार को बुलाकर पहचान कराई ।

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार मृतका की पहचान 45 वर्षीय छाया नामक महिला के तौर पर की गई है जो कि गोंदिया पब्लिक स्कूल निकट स्थित प्रगति कॉलोनी की निवासी है जो अचानक बिना बताए घर से गत 28 जून को निकल गई , परिजनों ने तलाश शुरू की कहीं पता नहीं लगा तो 30 जून को सिटी पुलिस थाने में बेटी ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई ।

पुलिस को घरवालों ने महिला के मानसिक रूप से बीमार होने और इलाज चलने की जानकारी दी थी।

संभावना व्यक्त की जा रही है कि मानसिक बीमारी से परेशान होकर वह घर से कहीं चली गई और उसने नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली।
बारिश के चलते शव बहते हुए पांगोली नदी के छोटे पुल से 200 मीटर दूर भीम घाट तक आ गया होगा ।

बहरहाल पुलिस में स्पाट पंचनामा पश्चात लाश शवविच्छेदन हेतु जिला अस्पताल भेज दी है , इस संदर्भ में सिटी पुलिस ने फरियादी पुलिसकर्मी राकेश निर्वाण की शिकायत पर आकस्मिक मौत का मामला धारा 174 के तहत पंजीबद्ध किया है।

सहायक पुलिस निरीक्षक सतीश सपाटे द्वारा मामले की जांच शुरू की गई है।

रवि आर्य