Published On : Sun, May 16th, 2021

गोंदिया: 2023 तक तैयार हो जाएगी मेडिकल कॉलेज की नई इमारत-प्रफुल्ल पटेल

गोंदिया : कोरोना की दूसरी लहर जहां खौफनाक साबित हुई और तेजी से संक्रमितों की संख्या में इजाफा हुआ।
वहीं दूसरी ओर हालात से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के प्रयास तेज किए गए जिसके परिणामस्वरूप अब जिले में कोविड की स्थिति में सुधार हुआ है।

कोरोना संक्रमण के इस संकट के दौरान सिस्टम में कुछ खामियां और त्रूटियां हो सकती है लेकिन इसकी आलोचना करने और टिप्पणी करने का यह सही समय नहीं है, बल्कि सभी ने मिलकर इस सकंट से लड़ने का समय है। कोरोना की लड़ाई में सिस्टम अच्छे से काम कर रहा है, उक्त आश्रय के उद्गार शनिवार 15 मई को जिलाधिकारी कार्यालय में आयोजित कोविड की समीक्षा बैठक में सांसद प्रफुल पटेल ने व्यक्त किए।

बेड ,ऑक्सीजन, दवाई की नहीं होगी कमी
सांसद प्रफुल पटेल ने आगे कहा- जिले में कोरोना संक्रमण पर काफी हद तक काबू पाया गया है, ऑक्सीजन, दवाईंया और बेड की कोई भी समस्या नहीं है।


जिला क्रीड़ा संकुल के कोविड केयर सेंटर में पुनः 100 ऑक्सीजन युक्त बेड बढ़ाए जाएंगे, साथ ही देवरी, आमगांव, अर्जुनी मोरगांव तथा सड़क अर्जुनी के ग्रामीण अस्पताल में शीघ्र ही ऑक्सीजन तैयार करने वाले प्लांट स्थापित किए जाएंगे तथा गोंदिया में फिर से ऑक्सीजन सिलेंडर रिफलिंग प्लांट लगाया जाएगा। इसके साथ ही स्थानिक विकास निधि से शीघ्र ही एम्बूलेंस उपलब्ध करायी जाएगी।

जिले में कोविड की स्थिति काफी हद तक नियंत्रण में है और समय-समय पर मैं प्रशासन के संपर्क में हूं तथा रोजाना की परिस्थिति की समीक्षा की जा रही है, एैसी बात भी सांसद पटेल ने कही।

जिला अस्पताल को जल्द मिलेगी नई सीटी स्कैन मशीन
कोरोना महामारी की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या बढ़ने से सीटी स्कैन का उपयोग भी बढ़ा है, जिससे एक मशीन पर दबाव बढ़ गया है लिहाजा आगामी 15 दिनों में नई सीटी स्कैन मशीन स्थापित की जाएगी इसके लिए प्रशासकीय मंजूरी और निधि भी उपलब्ध है।
मेडिकल कॉलेज की नई इमारत का बांधकाम सार्वजनिक बांधकाम विभाग के माध्यम से शीघ्र शुरू होगा तथा 2023 तक मेडिकल की सुसज्जीत इमारत तैयार हो जाएगी, एैसी उम्मीद भी सांसद प्रफुल पटेल ने जतायी।

अदानी प्रकल्प ने सौंपे 50 जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर

कोरोना संकट काल में अदानी विद्युत प्रकल्प की ओर से काफी सहयोग प्रदान किया गया है। 13 केएल के ऑक्सीजन टैंक के बाद अब 50 जम्बो ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध कराए गए है। इन ऑक्सीजन सिलेंडरों का लोकार्पण भी सांसद प्रफुल पटेल के हस्ते किया गया तथा 50 और जम्बो ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराये जाने की बात सांसद पटेल ने कही।

रब्बी धान खरीदी व पंजीयन की अवधि में वृद्धि
खरीफ सीजन का धान अब तक न उठाए जाने से रब्बी सीजन की धान खरीदी शुरू नहीं हो पायी है तथा इसके लिए ऑनलाईन पंजीयन करने की समय सीमा समाप्त हो गई है, हालांकि कोरोना से बने हालात को देखते हुए रबी धान की बिक्री के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को आगे बढ़ाया जाएगा। इस संबंध में खाद्य एंव नागरी आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल की ओर से सकारात्मक भूमिका दर्शायी गई है। साथ ही रबी की धान खरीदी को एक माह के लिए बढ़ाने का प्रस्ताव भी राज्य सरकार के माध्यम से केंद्र को भेजा जाएगा तथा धान की कस्टम मिलिंग का मुद्दा भी सुलझा लिया गया है और जल्द ही अनाज उठा लिया जाएगा।

धान के बोनस का भुगतान शीघ्र

कोरोना संकट के चलते राज्य सरकार आर्थिक संकट में है और तिजोरी भी खाली है, लेकिन इस संकट की घड़ी में राज्य सरकार मजबूती के साथ किसानों के साथ खड़ी है।

किसानों को घोषित की गई धान बोनस की राशि का भूगतान आगामी 15 दिनों के भीतर कर दिया जाएगा , इस संदर्भ में राज्य के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार से भी चर्चा हो चुकी है तथा इस मुद्दे पर उन्होंने सकारात्मक रूख अपनाया है एैसी बात भी सांसद प्रफुल पटेल ने कही।
समीक्षा बैठक के दौरान पूर्व विधायक राजेंद्र जैन, विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे, सहसराम कोरोटे, राष्ट्रवादी के जिलाध्यक्ष विजय शिवणकर, गंगाधर परशुरामकर, विनीत सहारे उपस्थित थे।

रवि आर्य