Published On : Sun, Feb 9th, 2020

गोंदियाः २ साल में बन जाएगा मेडिकल कॉलेज

४७० करोड़ की निधि पड़ी है, जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य

गोंदिया- गोंदिया तथा भंडारा जिले के गुणवंत विद्यार्थियों द्वारा किए गए परिश्रम को सम्मानित करने के लिए रविवार ९ फरवरी को स्थानीय डीबी साइंस कॉलेज परिसर में स्व. मनोहरभाई पटेल जयंती अवसर पर स्वर्ण पदक वितरण समारोह का आयोजन किया गया।

शिक्षा एैसा वरदान है, जिसे कोई छीन नहीं सकता- सचिन पायलट
राजस्थान के उपमुख्यमंत्री तथा कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा- हम फ्लाइंग स्कूल गए, आधुनिक एयर ट्राफिक सिस्टम को देखा, सैनिक स्कूल का कैम्पस देखा, यह देखने के बाद मैं एैसा मानता हूं कोई भी शिक्षण संस्था या यूनिवर्सिटी इसलिए अच्छी नहीं कि, वहां एक्यूपमेंट अच्छा है, मैदान अच्छा है, इमारतों से स्कूल अच्छी नहीं बनती , उस संस्था के अंदर लोग किस भावना से काम करते है? वहां पढ़ने वाले बच्चों को किस दिशा में हम ले जाते है? वहां से अध्ययनिरत होकर निकले कितने बच्चों को अच्छी नौकरियां मिल पाती है? इससे उसकी गुणवता का पता चलता है। गोंदिया शिक्षण संस्था को देखकर एैसा लगा इसमें आत्मा है, कुछ देने की भावना है।

नाना पटोले इसी कॉलेज के विद्यार्थी रहें, इसी मैदान पर उन्होंने फुटबॉल देखा, आज महाराष्ट्र विधानसभा में वे कबड्डी खिला रहे है।

अभी हम लोगों की ३ पार्टियों की मजबूत सरकार महाराष्ट्र में बनी है, मुझे पूरा विश्‍वास है कि, राज्य के लोगों को जो उम्मीद है उससे ज्यादा काम हमारी सरकार कर दिखायेगी। गोंदिया में मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू होने जा रहा है, यहां की सिंचाई परियोजनाओं पर काम हो रहा है। प्रफुलभाई आज आपने हमें बुलाया है, मैं चाहूंगा २ साल बाद जब दुबारा हम लोगों को बुलाओ तो मेडिकल कॉलेज के कैम्पस में बैठकर हम चाय पिये ताकि लगे कि, हम सभी समर्पण भाव से काम कर रहे है।

शिक्षा एैसा वरदान है जो जीवन में कभी कोई वापस नहीं ले सकता, गोल्ड मेडल से सम्मानित किए गए सभी विद्यार्थियों को मैं बधाई देता हूं।

जहां शिक्षा है वहां उम्मीद और जहां उम्मीद है वहां भविष्य- आदित्य ठाकरे
महाराष्ट्र के पर्यटन व पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने अपने संबोधन में कहा- जहां शिक्षा है वहां उम्मीद है और जहां उम्मीद है वहां भविष्य है, गोंदिया का कॉलेज कैम्पस देखकर एैसा लगा कि, मैं विदेश में आ गया हूं, और किसी इंटरनेशनल कॉलेज को देख रहा हूं। गुणवंत विद्यार्थियों को गोल्ड मैडल देकर मैं खुद को भाग्यशाली मान रहा हूं। स्व. मनोहरभाई पटेल के जीवनी की पुस्तक पढ़ रहा था, वे आर्थिक परिस्थितियों की वजह से खुद शिक्षा ग्रहण नहीं कर सके लेकिन उन्होंने एक दिन में २२ कॉलेज शुरू किए तथा अपने क्षेत्र की जनता के लिए क्या कर सकता हूं, इस विषय में सोचा। देश को सुपर पॉवर बनाना है तो क्वालिटी शिक्षा हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।

महाराष्ट्र की सरकार जरूर अलग-अलग दल और विचारधारा की सरकार है लेकिन अच्छे दिनों की सरकार ही नहीं, यह अच्छे लोगों की सरकार है, साफ मन की सरकार है, साफ दिल की सरकार है, महाराष्ट्र सरकार का जवाबदार मंत्री होने के नाते मैं यह कह सकता हूं, भंडारा हो या गोंदिया, राज्य के प्रत्येक जिले का संपूर्ण विकास होगा।

एज्यूकेशन ही लाइफ है- सुनील शेट्टी
प्रख्यात अभिनेता सुनिल शेट्टी ने कहा- प्रफुलभाई का शुक्र गुजार हूं कि, उन्होंने इतने खूबसूरत मौंके पर मुझे यहां बुलाया, १२-१५ साल पहले मैं यहां आया था लेकिन कॉलेज कैम्पस में आने का अवसर नहीं मिला था, आज यहां कि, इंस्टटियूट को देखकर मैं दंग सा रह गया, दुनिया के किसी भी कोने का यह मुकाबला कर सकते है। अभिनेता हूं, नेता नहीं हूं इसलिए स्पीच देना आता नहीं है, फिल्मों में डॉयलाग लिख के दिया जाता है और जो लिख के दिया जाता है हम बोल देते हैं और अगर गड़बड़ होती है तो रिटेक भी कर लेते है लेकिन यहां रिटेक का मौका नहीं है। जिन बच्चों को मैडल मिला उन्हे मुबारकबाद देता हूं, बच्चों से यहीं कहना चाहूंगा- लाइफ के लिए एज्यूकेशन नहीं है, एज्यूकेशन ही लाइफ है।

मेरी पिक्चर का एक फैम्स डॉयलाग है वहां मैं अंजली से कहता हूं, यहां मैं पटेल फैमिली से कहता हूं- मैं तूम्हें भूल जाऊं यह हो नहीं सकता? और तूम मुझे भूल जाओ, यह मैं होने नहीं दूंगा। तीसरी बार आऊंगा तो गोंदिया मेडिकल कॉलेज के उद्घाटन पर आऊंगा , आई थिंक यह जल्दी पूरा होगा। मुझे बुलाया, प्यार दिया, उसके लिए शुक्रिया।

स्व. मनोहरभाई पटेल ने शिक्षण और सिंचन पर दिया जोर- प्रफुल पटेल

इस अवसर पर सांसद प्रफुलभाई पटेल ने अपने संबोधन में कहा- शिक्षा की ज्योत मनोहरभाई पटेल द्वारा प्रज्वलित की गई, इसे गोंदिया शिक्षण संस्था आगे बढ़ा रही है, इस संस्था के विभिन्न स्कूल-कॉलेजों में सव्वा लाख बच्चे सीख रहे है।

स्व. मनोहरभाई ने शिक्षण और सिंचन के अभाव को दूर करने के लिए जहां शैक्षणिक संस्थाओं का जाल बिछाया, वहीं कई एरिगेशन के प्रोजेक्ट शुरू किए। विकास के काम को गति देने की आज जरूरत है।

४७० करोड़ रूपये गोंदिया मेडिकल कॉलेज के लिए मंजूर करके रखा गया है, जल्द ही २ साल में गोंदिया में मेडिकल कॉलेज बन जाएगा, साथ ही धापेवाड़ा टप्पा-टू और टप्पा-थ्री सिंचाई परियोजना भी पूर्ण करने की जिम्मेदारी महाविकास आघाड़ी सरकार की है, एैसा में वचन देता हूं।

५ साल पूरे करेगी महाविकास आघाड़ी सरकार- अनिल देशमुख

गृहमंत्री अनिल देशमुख ने इशारों-इशारों भाजपा की प्रदेश इकाई पर कटाक्ष करते कहा- कुछ नेता मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे है, लेकिन ये महाआघाड़ी ५ साल पूरे करेगी। राज्य में ८ हजार पुलिस कर्मियों की भर्ती शुरू की गई, गोंदिया जिले को इस भर्ती का लाभ मिलेगा। साथ ही जो गोंदिया में अवैध साहूकारी बड़े पैमाने पर फैली हुई है, उसके खिलाफ भी पुलिस प्रशासन सख्ती से निपटेगा।

टेक्नीकल एज्यूकेशन से दूर होगी बेरोजगारी- नाना पटोले

महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष नाना पटोले ने अपने संबोधन में कहा – टेक्नीकल एज्यूकेशन से ही बढ़ती बेरोजगारी दूर होगी, इस दिशा में गोंदिया शिक्षण संस्था कुछ कोर्स शुरू करें, यह आज समय की मांग है। उन्होंने कहा, गोंदिया- जबलपूर रेलमार्ग का कार्य मार्च तक पूर्ण होगा और जल्द ही इस रूट पर ट्रेनें दौड़ने लगेगी। गोंदिया रेलवे बुकिंग ऑफिस के सामने बना मॉल भी शीघ्र शुरू होगा। गोंदिया के पुलिस क्वाटरों की स्थिति खराब है, गृहमंत्री इसका संज्ञान लेकर उसकी दशा सुधारें।

इस अवसर पर मंचासीन अतिथि के तौर पर वर्षाताई पटेल, पूर्व सांसद खुशाल बोपचे, मधुकरराव कुकड़े, विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे, विनोद अग्रवाल, सहसराम कोरोटे, राजू कोरमोरे, पूर्व विधायक हरिहरभाई पटेल, नगराध्यक्ष अशोकराव इंगले आदि गणमान्य उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व विधायक राजेंद्र जैन ने किया।

रवि आर्य