Published On : Mon, Jul 12th, 2021

गोंदिया: गिरी आसमानी बिजली , कच्चा मकान क्षतिग्रस्त, छत जली

जिलाधीश ने किया प्रत्यक्ष निरीक्षण , पीड़ित परिवार को तत्काल आर्थिक मदद प्रदान की

गोंदिया: शनिवार 10 जुलाई के दोपहर 3 बजे अचानक तेज हवाओं व आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई इसी बीच आसमान में बिजली की कड़कड़ाहट होने लगी और गोरेगांव तहसील के ग्राम सोनी निवासी देवचंद घारपिंडे के मकान पर तेज धमाके के साथ आकाशीय बिजली आ गिरी।

Advertisement

बिजली गिरने से मिट्टी निर्मित्त कच्चा मकान जलकर राख हो गया तथा मकान के भीतर मौजूद जीवनावश्यक वस्तुएं, कपड़े, अनाज आदि भी जलकर राख हो गया। गनीमत रही कि, घटना के वक्त घर पर कोई मौजूद नहीं था जिससे बड़ी जनहानि टल गई।

Advertisement

जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी राजेश खवले 11 जुलाई रविवार को ग्राम सोनी पहुंचे और मौके का प्रत्यक्ष निरीक्षण करते हुए पीड़ित घोरपिंडे परिवार से भेंट की। श्री खवले ने देवचंद घरपिंडे के परिवार के साथ बातचीत करते हुए संपूर्ण परिस्थिति की जायजा लिया तथा कर्मचारियों के सहयोग से जीवनपयोगी वस्तुओं को एकत्र कर तत्काल अस्थाई राहत के रूप में राशन कीट प्रदान की। आकाशीय बिजली गिरने से घारपिंडे परिवार का मकान संपूर्ण जल जाने से उनके रहने की व्यवस्था प्राथमिक विद्यालय में अस्थायी रूप से की गई है।

कलेक्टर खवले ने कहा कि, पीड़ित परिवार की आर्थिक तंगी को दूर करने के लिए एक व्हाट्सअप गु्रप तैयार किया जाए और गांव के इच्छुक नागरिक मदद करें और इनमें उनका नाम भी शामिल किया जाए ही सामाजिक संगठन, एनजीओ भी पहल करते हुए पीड़ित परिवार की मदद के लिए आगे आए।
पीड़ित परिवार की मदद करना हमारा सामाजिक दायित्व है। इतना ही नहीं जिलाधिकारी खवले ने तत्काल निजी सहायता के रूप में 5 हजार रूपये की मदद पीड़ित परिवार को प्रदान की और अन्य नागरिकों से भी मदद का आव्हान किया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी के साथ उपविभागीय अधिकारी अजयकुमार नष्टे, तहसीलदार सचिन गोसावी, नायब तहसीलदार रहांगडाले, जिला आपदा व्यवस्थापन अधिकारी राजन चौबे, निरीक्षण अधिकारी निलेश देठे, पटवारी श्रीमती हस्तरेखा बोरकर व आपूर्ति निरीक्षक समीर मिर्झा उपस्थित थे।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement