Published On : Fri, May 8th, 2020

गोंदिया: नाजायज संबंधों को आबाद रखने के लिए प्रेमी के साथ मिलकर पति का कत्ल

जघन्य हत्याकांड की गुत्थी सुलझी ,3 गिरफ्तार

गोंदिया ग्रामीण थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम टेमनी में हत्या का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है ।अवैध संबंधों के चलते एक महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या करवाई। पुलिस ने महिला और उसके प्रेमी तथा प्रेमी के एक साथीदार को गिरफ्तार कर आज अदालत में पेश किया जहां से कोर्ट में 15 मई तक इन तीनों को पुलिस कस्टडी में भेजने के आदेश दिए हैं।

Advertisement

नहर के पास खून से लथपथ मिली थी लाश
मारे गए शख्स का नाम मूलचंद है। दरअसल गोंदिया ग्रामीण पुलिस को 7 मई की दोपहर 2 बजे फोन कॉल आई जिसमें बताया गया कि बरबसपुर के अंभोरा नहर के पास एक युवक की खून से लथपथ लाश पड़ी है। मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा मृतक युवक का गला किसी धारदार शस्त्र से रेता हुआ था तथा सिर पर किसी वजनदार औजार से मार के निशान थे और चेहरा भी हल्का कुचला गया था ताकि पहचान संभव ना हो सके।

पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे ने वारदात को ट्रेस आउट करने के लिए तीन टीमों का गठन किया । पुलिस ने पहले स्तर पर शव के शिनाख्त की कोशिश , मृतक के हुलिए के आधार पर आस-पास के गांव के ग्रामीणों से फोटो दिखाकर की।

पुलिस टीम ने दी ग्राम टेमनी में दस्तक
पूछताछ दौरान लोकल क्राइम ब्रांच को यह जानकारी मिली कि यह मृतक ग्राम टेमनी का निवासी हो सकता है ? उसी आधार पर पुलिस टीम ग्राम टेमनी पहुंची। घर पर बताया गया कि मूलचंद सहारे यह 6 मई के शाम घर से यह कहकर निकला कि ग्राम कटंगी जा रहा हूं पर अब तक लौटा नहीं ?
इसी दौरान पुलिस को ग्राम टेमनी में विभिन्न स्तर पर पूछताछ के दौरान मृतक की पत्नी के गांव के सुरेश (45 ) के साथ अवैध संबंध होने की बात सामने आई। यह सनसनीखेज जानकारी हाथ लगने के बाद पुलिस ने आरोपी सुरेश को डिटेन किया। गहनता से पूछताछ करने पर अवैध संबंधों में रूकावट बन रहे मूलचंद के हत्या की वारदात को अपने एक साथी धर्मेंद्र के साथ मिलकर अंजाम देना कबूल किया।

मृतक मूलचंद मूलतः कारंजा का निवासी है तथा काम मजदूरी के सिलसिले में वह मकान लेकर गत 4 माह से पत्नी के साथ टेमनी में रह रहा था तथा नशे की हालत में बीवी के साथ मारपीट किया करता था। इसी दौरान पड़ोस में रहने वाले आरोपी सुरेश ने मृतक की पत्नी को जिंदगी भर साथ देने का प्रलोभन दिया जिसके बाद दोनों में अंतरंग संबंध स्थापित हो गए।

स्वयं के नाजायज संबंधों को आबाद रखने के लिए आरोपी सुरेश ने मृतक को ठिकाने लगाने की साजिश महिला के साथ मिलकर एक माह पूर्व रची।
वारदात के दिन जान पहचान का लाभ उठाते हुए आरोपी सुरेश ने अपने साथीदार धर्मेंद्र ( 23, टेमनी ) के जरिए मूलचंद को ड्रिंक ऑफर किया और शराब पिलाने के लिए मौके पर बुलाया तथा उसे अधिक शराब परोसी , नशा चढ़ जाने के बाद आरोपी सुरेश ने कुल्हाड़ी से मूलचंद के गर्दन और सिर पर वार करते हुए उसे ढेर कर दिया तथा मामले को दुर्घटना का रूप देने का प्रयास किया लेकिन मामला उजागर हो गया।

गोंदिया ग्रामीण पुलिस में फरियादी महेंद्र सहारे ( 29 कारंजा , त. गोंदिया ) की शिकायत पर तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 302 , 34 का जुर्म दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की तथा अदालत में पेश किया , कोर्ट ने आरोपियों को 15 मई तक पूछताछ हेतु पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

इस जघन्य हत्याकांड के मामले की गुत्थी पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे, अप्पर पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी, उपविभागीय पुलिस अधिकारी जगदीश पांडे के मार्गदर्शन में स्थानिक अपराध शाखा के सहायक पोनि रमेश गर्जे, पुलिसकर्मी लिलेंद्र बैस, गोपाल कापगते, चंद्रकांत कर्पे, गोंदिया ग्रामीण थाने के सपोनि प्रदीप अतुलकर, अभिजीत भुजबल, पोउपनि उमेश गुटाड, रोहित भोर, बापु मुंढे, पटले, गुरमुले, बिसेन, चकोले, कटरे, मपोसि तांडेकर, चालक लांजेवार, उपविभागीय पुलिस अधिकारी कार्यालय के सपोनि दिलीप कुंदोजवार, रामलाल सार्वे, बोधनकर तथा साइबर सेल के पोनि राहुल शिरे, दिक्षीतकुमार दमाहे, धनजंय शेंडे, धनजंय मारवाडे द्वारा सुलझाई गई ।

रवि आर्य

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement