Published On : Sun, Sep 8th, 2019

गोंदिया: पारदर्शिता से होंगे चुनाव, तैयारियों में जुटा आयोग

Advertisement

गोंदिया जिले के 4 विधानसभा क्षेत्रों के 10 लाख 96 हजार 441 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे

गोंदिया: महाराष्ट्र में 288 सीटों वाली विधानसभा का कार्यकाल 11 नवंबर को पूरा हो रहा है लिहाजा कार्यकाल की समाप्ति में कम समय रहने के चलते चुनाव आयोग ने आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियां युद्धस्तर पर शुरू कर दी है।

Advertisement
Advertisement

राज्य के मुख्य सचिव और मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को पत्र लिखकर चुनाव तैयारी पूरी करने के निर्देश दिए है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि, एक हफ्ते के अंदर आदर्श आचार संहिता लागू किए जाने की घोषणा भी चुनाव आयोग की ओर से हो सकती है।

7 सितबंर को आयोजित पत्र परिषद के दौरान जिलाधिकारी व चुनाव निर्वाचन अधिकारी डॉ. कादंबरी बलकवड़े ने मीडिया प्रतिनिधियों को बताया, जिला प्रशासन आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में मुस्तैदी से जुटा हुआ है।

जिले की 4 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 1281 मतदान केंद्रों का संचालन किया जाएगा, आयोग की मंजूरी मिलने पर 1 पोलिंग सेंटर बढ़ भी सकता है। सभी 4 निर्वाचन क्षेत्रों में पर्याप्त ईवीएम-वीवीपैट मशीनें उपलब्ध होगी। पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में अब तक 11600 महिला तथा 8904 पुरूष मतदाताओं को नए चेहरे के रूप में पंजीकृत किया गया है, उन्होंने कहा पिछले चुनाव में 18 से 19 आयु के नए मतदाताओं का पंजीकरण 1.09% था जो इस बार बढ़कर 1.71 हो गया है।

विधानसभा चुनाव में 10 लाख 96 हजार 439 मतदाताओं को सूची में शामिल किया गया है जिनमें 5,44,619 पुरूष मतदाता और 5,51,820 महिला मतदाता तथा 1792 सर्विस वोटर (सेवा मतदाता) इस चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। अधिक जानकारी देते कलेक्टर ने कहा- जिले में 96.59 प्रतिशत मतदाताओं को पहचान पत्र वितरित किए गए है साथ ही 96.65 प्रतिशत तस्वीरें मतदाता सूची में उपलब्ध है। जिलाधीश ने बताया, महिला बूथों के अलावा 1 विशिष्ट मतदान केंद्र स्थापित करने का इरादा था, गोंदिया शहर में एक मतदान केंद्र एैसा रहेगा जिसमें विकलांग अधिकारी व कर्मचारी नियुक्त होंगे। उन्होंने कहा जिले में कुल 3376 वोटर विकलांग मतदाता के रूप में पंजीकृत है और उन्हें मतदान केंद्र पर विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध की जाएगी।

मतदान पहचान पत्र रखने वाले सभी वोटर को www.nvsp.in के साथ-साथ www.ceo.maharashtra.govt.in पर यह सुनिश्‍चित करने के लिए जाना चाहिए कि, उनका नाम मतदाता सूची में है?

ईवीएम के वोट में नहीं है खोट

ईवीएम व वीवीपैट मशीन से चुनाव प्रक्रिया गतिमान व पारदर्शी हुई है। प्रत्येक मतदाता को अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकशाही को मजबूत बनाते हुए अपना राष्ट्रीय कर्तव्य पूर्ण करना चाहिए इसी मकसद से जिला निर्वाचन विभाग ने कंट्रोल यूनिट, बैलेट यूनिट और वीवीपैट के संचालन पर मार्गदर्शन शिविर के माध्यम से करते हुए मतदाताओं के बीच जागरूकता बढ़ाना शुरू कर दिया है।

आयोजित पत्र परिषद में उपस्थित मीडिया प्रतिनिधियों व अन्य लोगों ने प्रत्यक्ष मतदान के माध्यम से नियंत्रण इकाई के समग्र कामकाज का भी अनुभव किया और उसपर संतोष व्यक्त किया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी डॉ. कादंबरी बलकवड़े, उपमुख्य चुनाव अधिकारी सुभाष चौधरी, सहायक चुनाव अधीक्षक हरिशचंद्र मड़ावी, नोखलाल कटरे, ज्यू. प्रोग्रामर प्रविण गडे, प्रणय तांबे आदि उपस्थित थे।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement