Published On : Thu, May 14th, 2020

गोंदिया: ताश के पत्तों के ख्वाब , तालाब पर बिखर गए

पुलिस रेड , 13 सफेदपोश जुआरी नामजद

गोंदिया: जुआ दिमाग पर वैसा ही असर डालती है जैसा कि शराब , अगर किसी को जुए की लत लग गई तो वह बार-बार हार जाने के बाद भी ताश के पत्तों पर बाजी लगाना नहीं छोड़ता ?

जुए की लत की स्थिति भी बड़ी गंभीर होती है जो आपके जीवन को आर्थिक तौर पर पूरी तरह तबाह कर देती है। गोंदिया के कई संभ्रांत परिवारों को जुए की लत ने आर्थिक तौर पर तबाह कर दिया है बावजूद इसके इन परिवारों के बिगड़ेल युवा हारी -जीती पर बाज़ी लगाने से बाज़ नहीं आते और लाकडाउन परिधि के दौरान भी मौका मिलते ही सुने सुनसान भरे इलाकों का रुख कर लेते हैं।

लोकल पुलिस क्राइम ब्रांच टीम को मंगलवार 12 मई की शाम इस बात की गुप्त और पुख्ता जानकारी मिली के गोरेगांव तहसील के सिलेगांव स्थित रानतालाब परिसर पर सफेदपोश जुआरियों का एक झुंड ताश के पत्तों पर हारी- जीती की बाजी लगा रहा है। स्थानिक अपराध शाखा पुलिस निरीक्षक रमेश गर्जे के नेतृत्व में पुलिस टीम शाम 5 बजे मौके पर पहुंची और तालाब के बीच सूखी जगह पर प्लास्टिक की चटाई ( मैट ) बिछाकर ताश के पत्तों पर बाजी लगा रहे जुआरियों के झुंड को घेर लिया ।

इस दौरान 7 सफेदपोश रंगे हाथों पकड़ाए जबकि 6 जुआरी पुलिस को चकमा देकर मौके से भागने में कामयाब रहे। घटनास्थल से पुलिस ने फड़ में मौजूद 17 हजार 770 की नगद राशि जबकि जेब तलाशी और 3 बाइक ,चटाई सहित पुलिस ने 2 लाख ,3 हजार 370 रूपए का साहित्य बरामद कर लिया। इस प्रकरण के संदर्भ में गोरेगांव थाने में कुल 13 जुआरियों के खिलाफ फरियादी पुलिसकर्मी लिलेंद्र बैस की शिकायत पर विभिन्न धाराओं के तहत जुर्म दर्ज किया गया है।

जिन 13 लक्ष्मीपुत्रों के खिलाफ 97 / 2020 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है वे शहर के यादव चौक , पुना टोली , गणेश नगर , फूलचूर और आसपास के इलाके के निवासी बताए जाते हैं। बहरहाल प्रकरण की जांच पुलिस हवलदार टेकचंद गाते कर रहे हैं।

रवि आर्य