Published On : Wed, Nov 17th, 2021
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

गोंदिया: विशेष सभा में निर्णय , डंपिंग यार्ड पर नहीं डाला जाएगा कचरा

सदन में हुए निर्णय की जानकारी नगराध्यक्ष-सभापति ने गणेशनगर वासियों को दी

गोंदिया: शहर के मोक्षधाम परिसर निकट स्थित डंपिंग यार्ड पर कचरा निस्तारण को लेकर गोंदिया नगर परिषद और गणेशनगर वासियों के बीच शुरू हुए गतिरोध पर आखिरकार विराम लग गया है।

आज बुधवार 17 नवंबर को नगर परिषद सभागृह में आयोजित विशेष सभा में कूड़ा डंपिंग यार्ड की समस्या का समाधान हो गया है ।


तदहेतु गोंदिया नगर पालिका और जिला प्रशासन ने एक शासकीय जमीन को चिन्हित किया है , फैसले पर अंतिम मुहर लगाने के लिए नगर परिषद की विशेष सभा में कागजी कार्रवाई जारी है तथा जनप्रतिनिधियों की बैठक शुरू है इस बात की जानकारी नागपुर टुडे को देते क्षेत्र के जुझारू जनप्रतिनिधि व बांधकाम सभापति राजकुमार कुथे ने बताया- विशेष सभा में हुए निर्णय की जानकारी सभागृह के बाहर आकर गणेशनगर व उसके आसपास के इलाकों में रहने वाले बाशिंदों को दे दी गई है कि अब गणेश नगर के निजी जमीन पर स्थित डंपिंग यार्ड में शहर का कूड़ा कचरा नहीं डाला जाएगा।

विशेष उल्लेखनीय है कि इस समस्या को सुलझाने हेतु नगर परिषद मुख्य अधिकारी करण चौहान , नगराध्यक्ष अशोक राव इंगले , उपाध्यक्ष शिव शर्मा , नगरसेवक लोकेश कल्लू यादव , नगरसेवक सतीश देशमुख , क्रांति कुमार जायसवाल , सुनील तिवारी , विजय रगड़े ने भी अपना अथक सहयोग प्रदान किया।

साथ ही विशेष सभा की बैठक शुरू होने से पूर्व नगरसेवक राजकुमार कुथे ने गणेशनगर वासियों के डंपिंग यार्ड की समस्या के सामाधान हेतु 7 दिनों के अल्टीमेटम का लिखित ज्ञापन मुख्य अधिकारी और नगराध्यक्ष को सौंपा जिसके चलते न. प प्रशासन पर दबाव बना।

गतिरोध खत्म होने पर गणेशनगर वासियों ने ली राहत की सांस

बता दें कि 11 नवंबर को एकजुटता का परिचय देते गणेश नगर वासियों ने न.प कार्यालय पर निषेध मोर्चा निकाला था।
जिस पर शिष्टमंडल से चर्चा करते इस बात पर सहमति बनी थी इस दौरान डंपिंग यार्ड पर ना तो कूड़ा गिरेगा , ना कूड़ा जलेगा ।
लेकिन 12 नवंबर शुक्रवार को डंपिंग यार्ड पर कचरे की गाड़ियां फिर पहुंचने की जानकारी मिलने पर पब्लिक का आक्रोश फूट पड़ा और उन्होंने कचरा डालने पहुंचे वाहनों को रोक दिया।

मौके पर मौजूद निजी जमीन मालिक प्रमोद कुमार अग्रवाल ने भी ऐतराज जताते हुए कहा- वे अपनी 8 एकड़ जमीन को नगर परिषद का डंपिंग यार्ड बनने नहीं देंगे ? जबरदस्त विरोध होता देख सीईओ पर दबाव बना आखिरकार नगर परिषद मालकीयत की मोक्षधाम जमीन (पार्किंग स्थल) पर कचरे की दर्जनों गाड़ियां खाली करनी पड़ी।

तथा इस दौरान दो-तीन दिनों तक नियमित वार्डों और सड़कों से कचरे के उठान पर और सफाई व्यवस्था भी बेपटरी रही और अधिकांश ट्रैक्टर- हॉपर खड़े रहे हैं।

अब गणेश नगर के डंपिंग यार्ड पर कचरा नहीं गिरेगा इस बात का ठोस आश्वासन मिलने के बाद , गतिरोध खत्म होने पर गणेशनगर वासी इस बात को लेकर राहत महसूस कर रहे कि अब उन्हें जहरीले धुएं और बदबू से निजात मिल जाएगी।

रवि आर्य