Published On : Thu, May 23rd, 2019

गोंदिया-भंडारा सीट पर चला मोदी मैजिक, डॉ. परिणय फुके की मेहनत रंग लाई

2014 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से नाना पटोले ने मोदी रथ पर सवार होकर राकांपा के कद्दावर नेता प्रफुल पटेल को डेढ़ लाख मतों से शिकस्त दी थी।

17 वीं लोकसभा के लिए चुनाव की कमान मोदी और अमित शाह ने संभाली। महाराष्ट्र के नेताओं से विचार विमर्श पश्‍चात बीजेपी आलाकमान ने इस सीट पर चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी विधान परिषद सदस्य (आमदार) परिणय फूके को सौंपी। इस सीट को हासिल करने के लिए जहां एनसीपी नेता प्रफुल पटेल ने पूरी ताकत झोंक दी वहीं डॉ. परिणय फूके के अनुरोध पर भाजपा ने भंडारा के नगराध्यक्ष सुनील मेंढे को बतौर प्रत्याशी घोषित कर चुनावी रण में उतारा। चुनाव प्रचार शुरू हुआ, 3 अप्रैल को गोंदिया की धरती पर प्रधानमंत्री मोदी की एक बड़ी चुनावी सभा हुई जिसमें 2 लाख से अधिक भीड़ उमड़ी। मतगणना से पहले यह कयास लगाए जा रहे थे कि, क्या मोदी की सभा में उमड़ी भीड़ वोटों में तब्दील होगी? आज जब वोटों की गिनती शुरू हुई तो पहले राऊंड से ही भाजपा उम्मीदवार लगातार बढ़त बनाये हुए है। उससे तो साफ जाहिर होता है कि, गोंदिया-भंडारा सीट पर मोदी लहर फिर एक बार काम कर गई और आज भी यहां के मतदाताओं के दिलो-दिमाग पर मोदी मैजिक छाया हुआ है।

भाजपा कार्यकर्ता एक बड़ी जीत को लेकर आश्‍वस्त हो चले है तथा शहर में जगह-जगह आतिशबाजी हो रही है और मिठाईंयां बाटकर खुशी का इजहार किया जा रहा है। कार्यकर्ताओं को उम्मीद है कि, 2014 के नाना पटोले के डेढ़ लाख मतों से जीत का रिकार्ड इस बार सुनील मेंढे तोड़ देंगे?