Published On : Fri, Jul 9th, 2021

गोंदिया: किसानों को फसल कर्ज से वंचित करने वाले 10 बैंकों पर गिरी गाज

कलेक्टर ने राजस्व विभाग प्रमुखों को पत्र लिख , सरकारी जमा राशि को अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों में स्थानांतरित करने के दिए निर्देश

गोंदिया: जिले के किसानों को खरीफ सीजन फसल कर्ज उपलब्ध कराने के लिए जिलाधिकारी राजेश खवले ने आज 9 जुलाई शुक्रवार को राजस्व प्रशासन के सभी विभाग प्रमुखों को पत्र जारी करते हुए किसानों को फसल कर्ज देने में आनाकानी करने वाली बैंकों की जानकारी लेकर संबंधित विभागों की सरकारी जमा राशि को अन्य राष्ट्रीयकृत बैकों में स्थानातंरित करने के निर्देश दिए है।

विशेष उल्लेखनीय है कि, पालकमंत्री नवाब मलिक ने 25 जून को गोंदिया जिले में फसल ऋण वितरण संबंधित समीक्षा बैठक लेकर जो बैंकें किसानों को ऋण देने में आनाकानी कर रही है, उनके पास सरकारी जमा रखा नहीं जाएगा, एैसा स्पष्ट निर्देश दिया था। इस सबंध में जिलाधिकारी खवले ने 5 जुलाई को फसल कर्ज वितरण की समीक्षा की जिसमें जिले के कुछ बैकों के फसल ऋण वितरण का प्रतिशत निर्धारित लक्ष्य से काफी कम रहा, एैसी 10 बैकों को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है।

गोंदिया जिले में खरीफ सीजन हेतु किसानों के लिए 300 करोड़ रूपये के फसल ऋण का लक्ष्य रखा गया है। अतः जिले में अब तक लगभग 180 करोड़ अर्थात 60 प्रतिशत फसल कर्ज वितरित किया जा चुका है।

बारिश का मौसम शुरू हो चुका है, लेकिन अभी भी जिले के कई किसान फसल कर्ज से वंचित है, एैसे में कुछ बैकों ने किसानों को फसल कर्ज वितरण में आनाकानी की है, यह बात संज्ञान में आने पर जिलाधिकारी खवले ने उक्त बैकों को फसल कर्ज सम्मेलन लेकर किसानों को कर्ज का लाभ देकर निर्धारित लक्ष्य को पुरा करने के निर्देश भी दिए है। साथ ही खरीफ सीजन के लिए फसल ऋण का लक्ष्य पूरा नहीं होने पर संबंधित बैकों में सरकारी जमा राशि को अन्य राष्ट्रीयकृत बैकों में स्थानांतरित करने के निर्देश भी जिलाधिकारी की ओर से संबंधित विभाग प्रमुखों को दिए है।

रवि आर्य