Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Mar 9th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    क्या प्रभाग ११ मनपा सीमा के बाहर है ?

    • प्रभाग की सड़कों पर फैली रेत दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रही
    • प्रभाग का खुला मैदान ले रहा डंपिंग यार्ड का रूप


    नागपुर:
    मनपा प्रशासन की गंभीरता के बावजूद मनपा स्वास्थ्य विभाग अन्तर्गत साफ़-सफाई के ठेकेदार कनक की लापरवाही से प्रभाग क्रमांक ११ स्वच्छता के नाम पर मनपा को मुँह चिढ़ा रहा है। इस प्रभाग के बाहरी इलाके में कभी भी न मनपा स्वास्थ्य विभाग के कर्मी दिखे और न ही कनक के कर्मी। ऐसा लगता है कि इस प्रभाग का बाहरी इलाका मनपा हद के बाहर है ?

    पश्चिम नागपुर अन्तर्गत प्रभाग ११ स्थित है। प्रभाग १ और प्रभाग ११ के मध्य से राष्ट्रीय महामार्ग गुजरता है। इस महामार्ग के दोनों किनारों पर सर्विस रोड है। राष्ट्रीय महामार्ग प्राधिकरण कार्यालय के अनुसार प्राधिकरण के मुख्य मार्ग की देखभाल उनकी जिम्मेदारी है और सर्विस रोड का जिम्मा स्थानीय प्राधिकरण का है। इस हिसाब से प्रभाग ११ का सम्पूर्ण परिसर मनपा प्रशासन व मनपा स्वास्थ्य विभाग अन्तर्गत आता है। प्रभाग ११ अन्तर्गत आने वाली सर्विस रोड की साफ़-सफाई मनपा मंगलवारी जोन के तहत आती है। लेकिन इस परिसर में पिछले ६ सालों में साफ़-सफाई के लिए कोई नहीं भटका। मनपा स्वास्थ्य विभाग में बारम्बार शिकायत करने पर सम्बंधित जोन के स्वास्थ्य निरीक्षक को निर्देश मिलने भी समस्या जस के तस है। मंगळवारी जोन में संपर्क करने पर वे अपना पल्ला झड़क आशीनगर की ओर इशारा करते हैं तो आशीनगर जोन अपनी उंगलियां मंगलवारी जोन की तरफ़ उठाती है।
    .
    सर्विस रोड और आसपास की समस्या
    सर्विस रोड से लगी रेलवे की खुली जमीन है, इस जमीन पर राष्ट्रीय महामार्ग अन्तर्गत ठेकेदारों ने अपना मलबा इस कदर फैला रखा है कि उसकी वजह से जहाँ-तहाँ पानी का जमाव हो जाता है और मिटटी पानी के बहाव से सड़क पर पसरते जा रही है। इस रेलवे की जमीन पर आधा दर्जन जगह तरह-तरह के कचरा फेंके जाते हैं, जो डंपिंग यार्ड सा प्रतीत हो रहा है। उक्त दोनों गन्दगी की वजह से बदबू सह कीड़े-मकोड़े पनप रहे है।

    इसी सर्विस रोड पर लगभग एक किलोमीटर तक जगह – जगह रेती का जमाव आये दिन दुर्घटनाएं को आमंत्रण दे रही है, रोजाना कोई न कोई जमा रेती से फिसलकर गिर-पड़ रहा है। यह रेती राष्ट्रीय महामार्ग के मुख्य मार्ग से बहकर सर्विस रोड पर जमा होती है, इस रेती को निकासी की जगह या हटाई न जाने से आवाजाही करने वालो को दिक्कते पैदा कर रही है। इसी मार्ग पर जगह जगह बिल्डिंग मटेरियल सह जमा पानी रोजाना अड़चन पैदा कर रहा है।


    इस मार्ग पर एक बरसाती नाला है, इसी नाले के जरिये नासुप्र द्वारा प्रभाग १ की ओर सीवर लाइन बिछाने का काम जारी है। इस वजह से नाले का बहता पानी कई सप्ताह से निर्माणकार्य करने वाले ठेकेदार ने रोका हुआ है, जिसके वजह से जमा गन्दा पानी से मच्छर,मकड़ी,कीड़े व अन्य नुकसानदेह जंतु पनप रहे हैं और आसपास के रहवासियों का जीना दूभर बनाए हुए हैं।

    इस मार्ग पर इंडियन पोल्ट्री फार्म का बड़ा व पुराना गोदाम है, जहाँ रोजाना हजारों मुर्गियां आती, कटती है। जिसका खून से सना पानी सर्विस रोड किनारे ड्रेनेज लाइन में छोड़ा जाता है। इन मुर्गियों के फार्म सह आवाजाही से पोल्ट्री फार्म के ५० मीटर परिसर में इतनी गंदगी-बदबू का फैलाव रहता है कि २४ घंटे में कभी भी गुजरे तो नाक बंद करके ही गुजरना पड़ता है, नैसर्गिक हवा का रुख रहवासी क्षेत्र की रहा तो बदबू उस ओर बड़ी तेजी से जबतक हवा रहती है तबतक कायम रहता है, मानो भांडेवाड़ी के इर्द-गिर्द रहते हो।

    उल्लेखनीय यह है कि उक्त सर्विस रोड सह आसपास का परिसर प्रभाग ११ अन्तर्गत आता है। इसलिए स्थानीय नागरिक प्रभाग के नगरसेवक सह स्थाई समिति के संभावित अध्यक्ष संदीप जाधव से उक्त समस्याएँ सुलझाने की मांग की है। साथ ही यह परिसर नासुप्र अन्तर्गत भी आता है, क्षेत्र की ज्वलंत अन्य समस्या का निराकरण करवाने की भी मांग की है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145