Published On : Mon, Feb 24th, 2020

गैंगस्टर रवि पुजारी अब भारत की गिरफ्त में, एयर फ्रांस की फ्लाइट से बेंगलुरु लाया गया

गैंगस्टर रवि पुजारी को आखिरकार प्रत्यर्पित कर भारत ले आया गया है। पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि गैंगस्टर रवि पुजारी को फ्रांस के जरिए दक्षिण अफ्रीका से भारत लाया गया है। एयर फ्रांस की फ्लाइट से देर रात रवि को बेंगलुरु एयरपोर्ट लाया गया। बता दें कि पिछले साल सेनेगल में गिरफ्तारी और फिर जमानत मिलने के बाद वह लापता हो गया था।

रविवार को ही जानकारी मिली थी कि रवि पुजारी को दक्षिण अफ्रीका के एक सुदूर गांव में सेनेगल के अफसर, भारत के रिसर्च ऐंड एनालिसिस विंग (रॉ) और मेंगलुरु पुलिस के जॉइंट ऑपरेशन में शनिवार को दबोचा गया। तभी से भारतीय अधिकारी पुजारी को स्वदेश लाने की कोशिश में जुटे थे।

Advertisement

गौर करने वाली बात है कि पुजारी के खिलाफ इंटरपोल ने भी रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है। उसके खिलाफ बॉलिवुड स्टार्स और कई नामचीन कारोबारियों को उगाही के लिए धमकाने समेत करीब 200 मामले दर्ज हैं।

Advertisement

कौन है रवि पुजारी:
-52 वर्षीय रवि पुजारी का जन्म कर्नाटक में मेंगलुरु के माल्पे में हुआ।
-अंग्रेजी, हिंदी और कन्नड़ भाषाओं का जानकार।
-लगातार क्लास में फेल होने के कारण स्कूल से बाहर।
-परिवार में पत्नी, 2 बेटियां और एक बेटा। 28 साल के बेटे की हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में शादी हुई।
-2005: में पत्नी पद्मा की फर्जी पासपोर्ट केस में गिरफ्तारी। पत्नी पर आरोप था वह खुद और बेटियों के लिए फर्जी पासवोर्ट बना रही थी। मेंगलुरु में जमानत मिलने के बाद वह एक बार फिर से फर्जी पासपोर्ट बनवाकर बेटियों संग भारत से फरार।
-चर्चा है कि रवि पुजारी के पास ऑस्ट्रेलियन पासपोर्ट है। वह अक्सर चीन, हॉन्ग कॉन्ग और पश्चिमी अफ्रीका का यात्रा करता है।
-इंटरपोल ने पुजारी और उसकी पत्नी पद्मा दोनों के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटस जारी किया था।
-1990: पुजारी मुंबई के अंधेरी में रहता था और वहां वह अन्य खतरनाक अपराधियों के साथ गैंगस्टर छोटा राजन के करीब आया। जल्द ही विजय शेट्टी और संतोष शेट्टी के साथ पुजारी भी छोटा राजन के गैंग में शामिल हो गया।
-1995: बिल्डर प्रकाश कुकरेजा की चेंबूर में हत्या कर यह गैंग अचानक सुर्खियों में आ गया।
-2000: बैंकॉक में छोटा राजन पर दाऊद इब्राहिम के गुर्गों के हमले के बाद उसने खुद का गैंग बनाया। बाकी अपराधियों की तरह ही उसने दुबई से उगाही का धंधा शुरू किया।
-2003: नवी मुंबई में बिल्डर सुरेश वाधवा की हत्या की कोशिश की।
-2005: कथित रूप से पुजारी के इशारे पर वकील मजीद मेनन का मर्डर।
-कुछ साल पहले एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में रवि पुजारी ने खुद को ‘देशभक्त डॉन’ के रूप में पेश किया। उस इंटरव्यू में पुजारी ने कहा कि वह हर उस शख्स को खत्म कर देना चाहता है, जिसका लिंक दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement