Published On : Mon, Oct 2nd, 2017

फुटाला के कृत्रिम तालाब में 510 घटों का हुआ विसर्जन

Advertisement


नागपुर:तालाबों को प्रदुषण से बचाने के लिए नागपुर महानगर पालिका की ओर से फुटाला परिसर में दो बड़े कृत्रिम तालाब लगाए गए हैं. जिसमें नवरात्रि के दो दिनों में करीब 510 घटों का विसर्जन किया गया है. ग्रीन विजिल संस्था के सदस्यों की ओर से घट विसर्जन करने आए श्रद्धालुओं को तेल से जलचरों एवं तालाब के पारितंत्र को होनेवाले नुक्सान के बारे में जानकारी दी गई. जिसके कारण फुटाला में घट विसर्जित न के बराबर हुए तो बाकी तालाबों में खासकर गांधीसागर तालाब में घट विसर्जन बड़ी तादाद में किया गया. फुटाला में दशहरे के दिन करीब 320 घटों का विसर्जन कृत्रिम तालाबों में किया गया था. इस दौरान घट के साथ ही बड़ी तादाद में ग्रीन विजिल के सदस्यों ने निर्माल्य का संकलन भी किया.

इस दौरान ग्रीन विजिल संस्था के संस्थापक कौस्तुभ चटर्जी ने जानकारी देते हुए बताया कि गणेश विसर्जन को लेकर जिस तरह से प्रशासन की ओर से व्यवस्था की जाती है. उसी तरह से दुर्गा उत्सव में भी की जाए. उन्होंने बताया कि घट में तेल होने के कारण तेल तालाब में रहता है और उसके कारण तालाब के अंदर ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता और पानी में रह रहे जीवों के साथ ही पर्यावरण की भी हानी होती है. उन्होंने बताया कि घट विसर्जन के लिए गांधीसागर में भी मनपा को व्यवस्था करनी चाहिए थी.

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement