Published On : Tue, Jun 2nd, 2020

देश के टैलेंट पर पूरा भरोसा, जल्द ही विकास की रफ्तार दोबारा हासिल करेंगे- पीएम मोदी

नागपूर– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) मंगलवार को उद्योग संगठन भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के वार्षिक सत्र को संबोधित किया. उन्होंने अपने संबोधन में भारतीय उद्योग जगत के साथ देश को आर्थिक वृद्धि की राह पर लाने का मंत्र साझा किया. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि हमें कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने के लिए और भी सख्त कदम उठाने होंगे. साथ ही अर्थव्यवस्था का भी ख्याल रखना होगा. पीएम मोदी ने कहा, कोरोना के खिलाफ इकोनॉमी को फिर से मजबूत करना, हमारी उच्च प्राथमिकता में से एक है. इसके लिए सरकार जो फैसले अभी तुरंत लिए जाने जरूरी हैं, वो ले रही है. साथ में ऐसे भी फैसले लिए गए हैं जो लंबे समय में देश की मदद करेंगे.

इकोनॉमी को फिर से मजबूत करना हमारी प्राथमिकता
प्रधानमंत्री ने कहा, देश की अर्थव्यवस्था को भी स्टैबलाइज करना है. देश के टैलेंट पर मुझे पूरा भरोसा है, हम जल्द ही विकास की रफ्तार दोबारा हासिल करेंगे. कोरोना के खिलाफ इकोनॉमी को फिर से मजबूत करनाहमारी प्राथमिकता है. इसके लिए सरकार जो फैसले तुरंत लिए जाने जरूरी हैं, वो ले रही है. और साथ में ऐसे भी फैसले लिए गए हैं जो आगे देश की मदद करेंगे. पीएम मोदी ने कहा, कोरोना ने हमारी गति जितनी भी धीमी की हो, लेकिन आज देश की सबसे बड़ी सच्चाई यही है कि भारत, लॉकडाउन को पीछे छोड़कर अनलॉक फेज 1.0 (Unlock Phase 1.0) में दाखिल हो चुका है. इकोनॉमी का बहुत बड़ा हिस्सा खुल चुका है. आज ये सब हम इसलिए कर पा रहे हैं, क्योंकि जब दुनिया में कोरोना वायरस पैर फैला रहा था, तो भारत ने सही समय पर, सही तरीके से सही कदम उठाए. दुनिया के तमाम देशों से तुलना करें तो आज हमें पता चलता है कि भारत में lockdown का कितना व्यापक प्रभाव रहा है.

Advertisement

आत्मनिर्भर भारत के लिए 5 I फॉर्मूला पेश किया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान आत्मनिर्भर भारत के लिए 5 I फॉर्मूला पेश किया. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सरकार ने 8 करोड़ गैस सिलेंडर मुफ्त में दिए, प्राइवेट सेक्टर के 50 लाख कर्मचारियों को 24 फीसदी EPFO सरकार ने दिया है. देश के आत्मनिर्भर बनाने के लिए पांच विषयों पर ध्यान देना जरूरी है, इनमें Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure और Innovation शामिल हैं.

किसानों के लिए ऐतिहासिक बदलाव किए
पीएम मोदी ने किसानों के लिए कहा कि सरकार ने ऐतिहासिक बदलाव किए हैं, अब किसान कहीं पर भी अपनी फसल बेच सकता है. किसान कहीं भी, कभी भी अपनी फसलों को अपनी शर्तों पर बेच सकते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार आज ऐसे पॉलिसी रिफॉर्म्स भी कर रही है जिनकी देश ने उम्मीद भी छोड़ दी थी.अगर मैं कृषि सेक्टर की बात करूं तो हमारे यहां आजादी के बाद जो नियम-कायदे बने, उसमें किसानों को बिचौलियों के हाथों में छोड़ दिया गया था.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का गरीबों को लाभ मिला
पीएम मोदी ने कहा, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना ने गरीबों को तुरंत लाभ देने में बहुत मदद की है. इस योजना के तहत करीब 74 करोड़ लाभार्थियों तक राशन पहुंचाया जा चुका है. प्रवासी श्रमिकों के लिए भी फ्री राशन पहुंचाया जा रहा है. महिलाएं हों, दिव्यांग हों, बुजुर्ग हों, श्रमिक हों, हर किसी को इससे लाभ मिला है. लॉकडाउन के दौरान सरकार ने गरीबों को 8 करोड़ से ज्यादा गैस सिलेंडर डिलिवर किए हैं- वो भी मुफ्त.

हमारे श्रमिकों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए, रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के लिए लेबर रिफॉर्म्स भी किए जा रहे हैं. जिन नॉन-स्ट्रैटजिक सेक्टर में प्राइवेट सेक्टर को इजाजत ही नहीं थी, उन्हें भी खोला गया है. सरकार जिस दिशा में बढ़ रही है, उससे हमारा माइनिंग सेक्टर हो, एनर्जी सेक्टर हो, या रिसर्च और टेक्नोलॉजी हो, हर क्षेत्र में इंडस्ट्री को भी अवसर मिलेंगे, और युवाओं के लिए भी नए अवसर खुलेंगे. इस सबसे भी आगे बढ़कर, अब देश के स्ट्रैटजिक सेक्टर में भी प्राइवेट सेक्टर्स की भागीदारी एक रियलटी बन रही है. आप चाहे स्पेस सेक्टर में निवेश करना चाहें, एटॉमिक एनर्जी में नए अवसरों को तलाशना चाहें, संभावनाएं आपके लिए पूरी तरह से खुली हुई है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement