| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Aug 6th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    9 अगस्त से कैट देश भर में शुरू करेगा चीन भारत छोड़ो अभियान

    चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अपने राष्ट्रीय अभियान “ भारतीय सामान – हमारा अभिमान “ के अंतर्गत कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्ज़ (कैट) के बैनर तले भारत छोड़ो आंदोलन के दिन आगामी 9 अगस्त को देश भर के व्यापारी संगठन चीन के ख़िलाफ़ एक नए आंदोलन का बिगुल बजाते हुए “ चीन भारत छोड़ो “ का नारा देंगे और सभी राज्यों के लगभग 600 शहरों में सामाजिक दूरी एवं सुरक्षा के सभी नियम का पालन करते हुए सार्वजनिक प्रदर्शन करेंगे ।

    कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री श्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा की जिस तरह से चीन ने एक लम्बी योजना के तहत गत 20 वर्षों में भारत के रीटेल बाज़ार पर चीनी उत्पादों के द्वारा क़ब्ज़ा कर लिया है उसको देखते हुए तथा बदली परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए चीनी उत्पादों से देश के रीटेल बाज़ार को आज़ाद कर आत्मनिर्भर भारतीय बाज़ार बनाना बहुत ज़रूरी है और इस वजह से चीन पर अपनी निर्भरता को कम करने के लिए नेट ने चीन भारत छोड़ो की आवाज़ बुलंद करने का आवाहन किया है । उन्होंने कहा की हाल ही में रक्षाबंधन के त्योहार की हिंदुस्तानी राखी के रूप में मनाने के कैट के अभियान को देश के लोगों ने समर्थन दिया और चीनी राखी का पूर्ण रूप से बहिष्कार किया जिससे चीन को इस बार राखी व्यापार से 4 हज़ार करोड़ रुपए में व्यापार की चपत लगाई है उससे यह स्पष्ट है की यदि देश के लोग संकल्प लेकर चीनी सामान का बहिष्कार करें तो भारत का व्यापार बहुत जल्द चीन से आज़ादी पा सकता है और कैट के नेतृत्व में देश के 7 करोड़ व्यापारियों ने यह संकल्प मज़बूती से लिया हुआ है ।

    श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने आज यह घोषणा की की देश में मनाए जाने वाले आगामी सभी त्योहार भारतीय सामान जा उपयोग कर ही मनाए जाएँगे और चीन ने किसी में किसी भी सामान का कोई उपयोग नहीं होगा । उन्होंने बताया की आगामी त्योहारों में जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी, नवरात्रि, दशहरा, धनतेरस, दिवाली , भैया दूज, छठ पूजा और तुलसी विवाह शामिल हैं और ये सभी त्योहार पूर्ण रूप से भारतीय त्योहारों में रूप में मनाए जाएँगे और ख़ास तौर पर इस वर्ष की दिवाली देश भर में हिंदुस्तानी दिवाली के रूप में मनाई जाएगी । कैट ने इसके लिए व्यापक तैय्यारियाँ भी शुरू कर दी हैं ।

    श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने बताया की कैट चीन भारत छोड़ो अभियान के अंतर्गत सरकार से माँग की जाएगी की भारत में 5 जी नेट्वर्क लागू करने में चीनी कम्पनी हुवावे को तुरंत प्रतिबंधित किया जाए तथा जिन चीनी कम्पनियों ने देश के स्टार्टअप इकाइयों में निवेश किया है , ऐसे चीनी निवेश को वापिस किया जाए और ऐसे स्टार्टअप को उसके बदले में आवश्यक वित्तीय सहायता मुहैया कराई जाए । जहां सरकार ने 59 चीनी ऐप को भारत में प्रतिबंधित किया है उसी के अनुसार बाक़ी बचे चीनी ऐप को भी सरकार तुरंत प्रतिबंधित करे । उन्होंने केंद्र सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा की सरकार ने इस मुद्दे की गम्भीरता समझते हुए ऐसे सभी आवश्यक कदम उठाएँ है जिनसे सरकार की विभिन्न परियोजनाओं में चीनी कम्पनियों की भागीदारी को ख़ारिज किया है , उसी तर्ज़ पर सीमा से सटे क्षेत्रों, सुरक्षा से सम्बंधित क्षेत्रों , हाइवे तथा अन्य परियोजनाओं के निर्माण में ऐसी सभी चीनी मशीनों को प्रतिबंधित किया जाए जिसमें आईओटी डिवाइस लगी हैं क्योंकि यह डिवाइस चीन स्थित कम्पनियों को यह सूचित कर सकती हैं की उक्त मशीनों के द्वारा क्या काम चल रहा है , कितनी गहराई तक काम हो रहा है जैसी महत्वपूर्ण सूचनाएँ जिनका दुरुपयोग हो सकता है । देश की सुरक्षा के लिए उपरोक्त सभी कदम उठाने आवश्यक हैं । कैट ने कहा की चीन भारत छोड़ो अभियान की मार्फ़त पूरे देश में व्यापारियों और अन्य लोगों को जागरूक करने का अभियान देश भर में 9 अगस्त से शुरू हो जाएगा ।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145