Published On : Tue, Nov 13th, 2018

दहशत के साये में जीने को मजबूर सहारा सिटी में रहने वाले सैकड़ों परिवार

Advertisement

जंगली जानवर की मौजूदगी के दावों के बीच वन विभाग ने लगाए सीसीटीवी कैमरे

नागपुर : शहरी सीमा में किसी जंगली जानवर की मौजूदगी से दहशत फैली हुई है। वर्धा रोड पर सहारा सिटी के आस पास लोगो द्वारा खतरनाक जंगली जानवर देखे जाने का दावा किया जा रहा है। रिहायशी ईलाके में बाघ या तेंदुए के घुस आने की आशंका को देखते हुए वन विभाग ने सतर्कता दिखाते हुए। जानवर को ईलाके से बाहर निकालने का ऑपरेशन शुरू किया है। सोमवार को वर्धा रोड पर सहारा सिटी के इर्दगिर्द सीसीटीवी कैमरे लगाए गए। ये कैमरे आगामी दो दिनों तक विचरण कर रहे प्राणियों की तस्वीर कैद करेंगे। जिसके बाद ही साफ़ हो पायेगा की आखिर कौन सा प्राणी रिहायशी ईलाके में घुस आया है। वन विभाग की एक टीम आरएमओ घाडगे ,कुंदन हाथे और उनके सहयोगी स्वप्निल जाधव की निगरानी में जांच पड़ताल कर रही है।

Advertisement
Advertisement

सहारा सिटी के पिछले हिस्से में झाड़ियाँ है इसके अलावा परिसर के भीतरी भाग की खुली जगह में काफ़ी पेड़ और झाड़ियाँ है। ऐसे में संभावना है कि कोई जंगली जानवर सिटी में घुस आया हो तो वह यही रह रहा हो। सिटी में रहने वाले लोगो के साथ ही कुछ ग्रामीणों ने बाघ देखने का दावा किया है। जाँच कर रहे वन विभाग को सिटी के पिछले हिस्से से गुजरने वाले मार्ग पर किसी जानवर के पैरो के निशान मिले है।

इन निशानों के आधार पर वन विभाग ने दावा किया है कि ये निशान किसी बाघ के नहीं है। अगर वन विभाग की प्राथमिक जाँच को माना भी जाये तो कयास तेंदुए की मौजूदगी को लेकर लगाया जा रहा है। किसी रिहायशी ईलाके में तेंदुए का घुस आना बाघ से ज़्यादा खतरनाक माना जाता है क्यूँकि तेंदुआ अधिक फुर्ती और विशेष तौर पर बच्चो,पालतू जानवरों को अपना निशाना बनाता है। ग्रामीणों ने जंगली जानवर द्वारा एक कुत्ते पर हमला करने का भी दावा किया है।

लोगो के मन से भय को दूर करने के लिए वन विभाग द्वारा प्रयास किया जा रहा है। बीती रात झाड़ियों में फटाखे फोड़े गए ताकि अगर कोई जानवर आया भी हो तो वो रिहायशी ईलाके से भाग जाये। बहरहाल वन विभाग भी उसके द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरे की तस्वीरों का इंतजार कर रहा है।

इस बीच सहारा सिटी और पास के ईलाके में रहने वाले ग्रामीण दहशत के साये में जीने को मजबूर है। सुरक्षा के लिहाज से सहारा सिटी में लापरवाही बरतने का मामला भी सामने आ रहा है। टाउनशिप की सुरक्षा दीवार का झाड़ियों की तरफ का हिस्सा टूटा हुआ है जिससे किसी के भी घुस आने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement