| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Dec 24th, 2019

    विराट भक्ति सत्संग का पांच दिवसीय आयोजन आज से

    नागपुर : विश्व जागृति मिशन के तत्वावधान में व आचार्य सुधांशुजी महाराज के सानिध्य में भव्य विराट भक्ति सत्संग का आयोजन 25 से 29 दिसंबर तक किया गया है. कार्यक्रम ‘आनंदधाम’ रेशिमबाग मैदान में आयोजित किया गया है. सत्संग के मुख्य यजमान रमेश सरोदे परिवार हैं.

    आयोजित पत्र परिषद में नागपुर शाखा के महामंत्री दिलीप मुरारका ने जानकारी दी कि 25 दिसंबर को सत्संग का आरंभ दोपहर 4 बजे से 6.30 होगा. इससे पूर्व 25 दिसंबर को गुरुजी के आगमन पर शारदा चैक से भक्ति निवास, अयोध्या नगर तक 108 मंगलकलश यात्रा निकाली जाएगी. 26 दिसंबर से 29 दिसंबर तक सुबह 9 से 11.30 व शाम को 4 से 6.30 बजे तक सत्संग होंगे. 28 दिसंबर को विशेष कार्यक्रम के अंतर्गत गुरुमंत्र सिद्धि साधना सुबह 9 से 12 से बजे तक सुरेश भट्ट सभागृह, रेशिमबाग में होगा. 29 दिसंबर को मंत्र दीक्षा सुबह 11.30 बजे आनंदधाम में होगी.

    विराट भक्ति सत्संग के लिए रेशिमबाग मैदान में 1 लाख वर्ग फुट का भव्य पंडाल का निर्माण किया जा है. पंडाल के भीतर विशाल मंच का निर्माण शरद इंगोले द्वारा किया जा रहा है. मंच पर प्रभु श्री राम- जानकी, लक्ष्मण के साथ वनवास जाते समय सरयूनदी के केवट प्रसंग का दृश्य व मंच के दाएं- बाएं अयोध्या में श्री राम के नवनिर्मित मंदिर के परिदृश्य साकार किया जाएगा. व्यासपीठ के समक्ष की सजावट सुनील कोकाटे द्वारा की जाएगी. इस सजावट को प्राकृतिक रूप दिया जाएगा.

    सत्संग की सुव्यवस्था के लिए विभिन्न समितियों का गठन किया गया है. समितियों में स्वागत समिति का दायित्व द्वारकाप्रसाद कांकाणी, दिलीप मुरारका, धनराज जैन, रमेश सरोदे, भक्त निवास अग्रसेन भवन मंडल का कार्यभार सुनील वोरा और दिनेश, दिल्ली भजन मंडल सेवा समिति का लक्ष्मण मंगनानी, आत्माराम मोतियानी, दिलीप थावरानी, जयेश मांडले, व्यासपीठ सजावट समिति संध्या मुरारका व महिला समिति, विशेष अतिथि सेवा समिति व मंडप व्यवस्था का अशोक जैन, पेयजल सेवा व्यवस्था श्रीमती शाहू बहन व सहयोगी, प्रचार सेवा समिति का डाॅ. शंकरसिंह परिहार, कार्यालय सेवा समिति का अनिल वेद, दामोदर राउत, युवा क्रांति दल सेवा समिति का सतीश बोरीकर व सहयोगी, युगऋषि सेवा समिति मंडल का गौरीशंकर अग्रवाल को कार्यभार सौंपा गया.

    पत्र परिषद में गोविंदलाल सारडा, श्रीकांत जायस्वाल, अजीत सारडा, विजय जायस्वाल, गोपाल गोयल, अशोक गोयल विट्ठल मेहर, दिलीप मुरारका, गौरीशंकर अग्रवाल, धनराज जैन, नरेश रावल, अनिल वझे, लक्ष्मण मंगनानी, पद्माकर देशपांडे, देवीदास देशमाने, वीरेंद्र बंसल, संध्या मुरारका, संध्या वैद, जयश्री देशपंाडे, विनिता सरोदे, मंजू जैन, सीता अग्रवाल, कीर्ति सरोदे, शोभा नंनावरे सहित महिला समिति की सभी सदस्याएं उपस्थित थे.

    आचार्य सुधांशु महाराज प्रणीत विश्व जागृति मिशन के अनुपम दिव्य निर्मलधाम, सुराबर्डी, अमरावती रोड में सुंदर आश्रम की स्थापना की गई है. जो देशभर में आकर्षण का केंद्र बनता जा रहा है. यहां दूर- दूर से पर्यटक सुंदर कलाकृति व मंदिर में दर्शन के लिए आते हैं. आश्रम के प्रवेश द्वार पर विराजमान गणपति भगवान का मंदिर आने जाने वालों के लिए विघ्नहरण, मनमोहक प्रथम दर्शन का केंद्र है. सिद्ध शिखर जो शिव शिखर के नाम से भी प्रचलित है की झांकी अति सुंदर बनाई गई है. यहां देवाधिदेव महादेव, माता पार्वती व श्री गणेश हिमालय की उंची चोटी पर विराजमान हैं.

    सुंदर झील रामसेतू अपने आप में अप्रतीम है. यहां 80 से 120 किलो के पत्थर तैरते हैं. आश्रम प्रांगण के अंतर्गत 10000 फुट का सत्संग हाॅल बनाया गया है. 16- 16 कमरों के भक्त निवास की सुविधा की गई है. इसके गर्भगृह में द्वादश ज्योर्तिलिंग और नौ दुर्गा माता मंदिर व वैष्णो देवी मां की मूर्तियों का सजीव, जागृत रूप भक्तों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं.

    आश्रम के अंतर्गत नवगृह मंदिर, गौशाला, पुष्पों का बगीचा व बच्चों के मनोरंजन के लिए अनेक प्रकार के झूले, डांसिग कार, भ्रमण के लिए ट्रेन आदि लगाए गए हैं और गुरु कुटिया बनाई जाएगी.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145