Published On : Mon, Jan 12th, 2015

अमरावती : गुलीस्ता नगर में फायरिंग

 

  • आरिफ लेंडया को लगी 2 गोली
  • शहर में फिर गैंगवार

Firing in gulist nagar
अमरावती । गुलीस्ता नगर में सोमवार की दोपहर सै.आरीफ उर्फ लेंड्या पर देशी पिस्तौल से फायरिंग हुई. इस फायरिंग में आरीफ को दो गोलियां लगी है, जिससे उसकी हालत नाजूक बताई जा रही है. नागपुरी गेट पुलिस ने हत्या के प्रयास और दंगा करने के मामले दर्ज किये है. पुलिस ने 3 हमलावरों को गिरफ्तार किया है. जिसमें पूर्व पार्षद कलंदरोद्दीन बद्रोद्दीन, बाबाद्दीन बद्रोद्दीन व मो. अहफाज मो एजाज को हिरासत में लिया है. इस घटना से दोनों गुट के बीच फिर एक बार गैंगवार छिड़ जाने से सनसनी मच गई है.

चांदणी चौक में हुई फायरिंग का बदला लेने उक्त हमला किया है. सोमवार की दोपहर 4.15 बजे सै.आरीफ उर्फ लेंड्या सै.साबीर (42,गुलीस्ता नगर) अपने भाई सै.आबिद के घर (गुलीस्ता नगर) के पास शिरिन स्टोअर्स के करीब खड़ा था, तभी 6 मोटर साइकिल पर 10 से 12 लोग वहां आये. जेबा पान सेंटर के पास बाइक खड़े कर तीन लोगों ने सीधे आरीफ पर हमला कर दिया. एक शख्स ने देशी पिस्तौल से गोलियां चलाई, जबकि 2 लोगों ने तीक्ष्ण हथियार से हमला किया. आरिफ के सीने व पेट में गोली दागने के बाद उसके बाये हाथ पर चाकू चलाये. परिजनों व्दारा पत्थर बरपाने से हमलावर उसे छोडक़र भाग निकले.परिजनों ने तत्काल ही उसे टाटा सूमो में डालकर सीधे सावदेकर अस्पताल में भरती किया.

पथराव के कारण एक शख्स अपनी बाइक छोडक़र भाग निकला. नागपुरी गेट पुलिस ने इस हीरो होन्डा फैशन प्रो (एमएच 27 एजेड 4262) को जब्त किया है, जबकि घटनास्थल से कोई कारतूस केस नहीं मिल पाये. सूचना पर डीसीपी सोमनाथ घार्गे, एसीपी लतीफ तडवी फौज फाटे के साथ वहां पहुंचे. आरीफ के परिजनों ने परिवार के सदस्यों को सुरक्षा मांगी. 11 जनवरी रविवार को ही आरीफ की भतीजी का निकाह हुआ. यवतमाल जिले में सोमवार की शाम उसका रिसेप्शन (वलीमा) था. इसी रिसेप्शन में शामिल होने के लिए सै.आरीफ के परिजन तैयारी में जुटे थे, तभी उक्त फायरिंग की घटना हुई. डीसीपी सोमनाथ घार्गे ने प्रेस वार्ता में कहा कि आरीफ ने डीडी बयान में हमलावरों के रुप में बाबाद्दीन, कलंदरोद्दीन, क्यामोद्दीन, अज्जु उर्फ रियाजोद्दीन, वसीम चायना, एहफाज, हबीब, शब्बीर पहलवान, अशहर चायना के नाम बताये है. इस आधार पर बाबाद्दीन, कलदरोंद्दीन व एहफाज को गिरफ्तार किया है, जबकि अन्य दो लोगों से पूछताछ चल रही है. 23 नवंबर को चांदणी चौक पर एहफाज पर फायरिंग हुई थी.

इस फायरिंग में जफर के साथ आरीफ लेंड्या का पहला नाम था. जिससे पुलिस ने देशी कट्टा भी जब्त किया था. हालहि में जेल से जमानत पर रिहा हुआ. इसी का बदला लेने के लिए उक्त हमला हुआ है. नागपुरी गेट के प्रत्येक चौक-चौराहों पर अतिरिक्त पुलिस बंदोबस्त लगाया गया है, वहीं सावदेकर अस्पताल पर भी पुलिस तैनात है. अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस दल को अलग-अलग दिशाओं में भेजा गया है.