Published On : Sun, Apr 26th, 2015

क्रिकेटी हमाम और नीरज कुमार,अंकिता कुमार, राजीव शुक्ला,अनुराधा प्रसाद

Advertisement

सत्ता के गलियारे से –  – कृष्णमोहन सिंह

भ्रष्टाचार व मैच फिक्सिंग से गंधा रही बीसीसीआई में भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई बनाकर उसमें दिल्ली के पूर्व पुलिस कमिश्नर नीरज कुमार को प्रमुख सलाहकार बना दिया गया है।नीरज यूपीए सरकार के समय दिल्ली के पुलिस कमिश्नर थे।और बिहार के हैं।राजीव शुक्ला यूपीए सरकार में मंत्री थे।

उस दौरान बीसीसीआई के उनके अध्यक्ष रहते घोटाला हुआ था तो इस्तीफा देना पड़ा था। और फिर इसी महिने उसके गवर्निंग काउंसिल के अध्यक्ष बन गये हैं।उनकी पत्नी अनुराधा प्रसाद बिहार की हैं और दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद की बहन हैं।राजीव शुक्ला का एक टीवी चैनल न्यूज 24 है।जिसको उनकी पत्नी संभालती हैं

Advertisement
Advertisement

।राजीव व अनुराधा ने और भी कई धंधे कर रखे हैं। राजीव – अनुराधा की 3 कम्पनियों में नीरज कुमार की छोटी बेटी अंकिता निदेशक हैं।जिसका खुलासा अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस में 22 अप्रैल को छपी एक खबर में हुआ। कम्पनी रजिस्ट्रार के यहां 31 मार्च 2014 को खत्म होने वाले वित्त वर्ष के जमा दस्तावेज में अनुराधा की कम्पनी ई 24 ग्लैमर में अंकिता निदेशक हैं। इसके अलावा अनुराधा की दो अन्य कम्पनियों , स्काई लाइन रेडियो नेटवर्क लिमिटेड और न्यूज 24 ब्राडकास्ट इंडिया लिमिटेड में भी 2013 तक निदेशक रही हैं।

इस तरह राजीव शुक्ला की पत्नी द्वारा प्रोमोटेड 3 कम्पनी में नीरज कुमार की बेटी निदेशक रही हैं / हैं। ई 24 ग्लैमर लिमिटेड के बारे में कम्पनी रजिस्ट्रार के यहां जो 31 मार्च 2013 तक का व्यौरा फाइल किया गया है,उसमें कम्पनी में 3 निदेशकों का नाम है- श्रीमति अनुराधा प्रसाद (DIN-00010716), अंकिता कुमार ( नीरज कुमार की छोटी बेटी) (DIN-02152600) और अजीत अंजुम ( बिहार के भूमिहार हैं अनुराधा को दीदी कहते हैं , अनुराधा के न्यूज चैनल न्यूज 24 में में थे अब रजत शर्मा के चैनेल इंडिया टीवी में नौकरी कर रहे हैं (DIN-01472920) ।

राजीव शुक्ला और नीरज कुमार इस समय बीसीसीआई में बड़े पद पर हैं और यहां स्पाट फिक्सिंस से लगायत अन्य भ्रष्टाचार को खत्म करने की जिम्मेदारी इनपर है। मालूम हो कि जब यही नीरज कुमार दिल्ली के पुलिस कमिश्नर थे तो 2013 में श्रीसंथ सहित 3 क्रिकेटरों को स्पाट फिक्सिंस मामले में गिरफ्तार किया गया था और राजीव शुक्ला को बीसीसीआई अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

बीसीसीआई में अरबो रूपये फंड है। ग्लैमर,धंधा,नेटवर्किंग,पावर का भी जरिया बन गया है।सो इसमें ज्यादेतर उद्योगपति,उनकी पत्नियां,बेटियां,फिल्मी अभिनेता,अभिनेत्रियां,बिल्डर,नेता,मुख्यमंत्री,मंत्री आदि अपनी जेबी टीम बना लिये हैं , क्रिकेट संघ बना लिये हैं। बहुत से लोग तो कहने लगे हैं कि इन क्रिकेट मैचों के मार्फत अब कालेधन को सफेद करने का धंधा होने लगा है।चियर्स लीडर का जो धंधा है उस पर भी अंगुली उठने लगी है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement