Published On : Tue, Feb 17th, 2015

मोर्शी : किसान की पीट-पीट कर हत्या


शव को कुएं में फेंका, 3 गिरफ्तार

17 morshi,,,,
मोर्शी (अमरावती)। तहसील के पिंपरी गांव के एक खेत में प्याज के पौधे खरीदने गये खेड निवासी 3 किसानों की मोटरसाईकील से सायकिल सवार को धक्का लगने पर हुए विवाद में इनमें से एक किसान की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई. इतना ही नहीं तो बदमाशों ने मृतक के शव को पास के ही खेत में बने एक कुएं में फेंक दिया और वहां से फरार हो गये. इस मामले में मृतक किसान के रिश्तेदारों ने पुलिस थाने पर जमकर हंगामा बरपा और शव को तबतक थाने में ही रखने की जिद की जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता. पुलिस ने कार्यवाही का आश्वासन देकर संशयित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

साइकिल सवार को धक्का लगने पर विवाद
जानकारी के अनुसार तहसील के पिंपरी गांव के किसान रवींद्र साहेबराव भोकरे (40), प्रकाश किसनराव चरपे (45), संजय बलवंत कनेर (35) यह तीनों मंगलवार को शाम खेड गांव में एक किसान की खेत स प्याज के पौधे लेने के लिये मोटर साईकल पर सवार होकर जा रहे थे. तभी पिंपरी से मानी सडक़ पर एक अज्ञात साईकिल सवार को उनकी मोटर साईकिल का धक्का लग गया. जिस पर विवाद करते हुये इस साईकिल सवार ने मोबाईल फोन से अपने रिश्तेदारों को घटना के बारे में सुचित किया. आनन-फानन में उसके रिश्तेदार घटनास्थल पर पहुँचे. और तिनों किसानों की पिटाई करना शुरु कर दिया.

दो लोग जान बचाकर भागे
इनमें से चरपे और कनेर किसी तरह अपनी जान बचाकर वहांसे भागने में सफल हुए. परंतु भोकरे इन बदमाशों के चंगुल में फंस गया. बदमाशों ने भोकरे को तब तक पिटा जब तक उसके प्राण पखेरु नहीं उड़े. इसके बाद बदमाशों ने मृतक का शव घटनाके पास ही गुड्डू गिरारे के खेत में बने कुएं में फेंक दिया. वहां से यह बदमाश नौ-दो-ज्यारह हो गये.

शव थाने में लाया
घटना की जानकारी खेड वासियों को मिलते ही उन्होंने तिनों किसानों की खोज आरंभ की जिसमें भोकरे का शव कुएं में दिखाई दिया. मृतक के भाई सतिश भोकरे ने पुलिस में इस हत्या कांड की शिकायत की. बुधवार को सबेरे खेड वासियों ने अम्बूलन्स में शव लाकर थानेके सामने रखा और आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर उनपर कार्यवाही की मांग की.

इन कैमरा पोस्टमार्टम
इस समय प्रभारी थानेदार राजेश गवली ने गांववासियों को समझाया और पोस्टमार्टम के लिये शव भेजने का निवेदन किया. पोस्ट मार्टम की रिपोर्ट की आधार पर कारवाई करने का आश्वासन दिया. इस पर गांववासी मान गये. पुलिस ने संदिज्ध आरोपियों में दिनेश चौधरी, राजू हजारे व पुरन पवार को गिरफ्तार किया है. मोर्शी उपजिला अस्पताल में रवींद्र भोकरे का इन कमेरा पोस्टमार्टम किया गया.