Published On : Tue, Dec 20th, 2016

नागपुर महोत्सव के अंतिम दिन गूंजा ‘हवन करेंगे…हवन करेंगे’

farhan

नागपुर: इधर वातावरण में हल्की धुंध और गुलाबी ठण्ड से अलमस्त बयारों के साथ नागपुर शहर के युवा मशहूर अभिनेता और ‘रॉक स्टार’ गायक फरहान अख्तर के साथ ‘रॉक ऑन’ कर रहे थे, उधर मौसम विभाग उसी समय नागपुर को देश में सबसे ज्यादा ठण्ड शहर के रूप में दर्ज कर रहा था. फरहान अख्तर नागपुर महोत्सव के अंतिम दिन अपने मशहूर गीतों के जरिए समां बाँध रहे थे. उन्होंने यशवंत स्टेडियम में ‘लाइव परफॉरमेंस’ के जरिए शहर के युवाओं का दिल जीत लिया. शहर के युवाओं ने भी फरहान अख्तर के हर ताल पर थिरक कर अपनी गर्मजोशी का खूब मुजाहिरा किया.
महापौर प्रवीण दटके के निर्देशानुसार नागपुर महोत्सव के अंतिम दिन को शहर के नौजवानों के नाम पर आरक्षित रखा गया था. मंच और युवाओं के बीच हर तरह के वी आई पी व्यवस्था को हटा लिया गया था. फरहान अख्तर और शहर के युवा मिलकर नागपुर महोत्सव के अंतिम दिन को यादगार बना गए. फरहान ने अपनी फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ के लोकप्रिय गीत ‘हवन करेंगे-हवन-करेंगे’ को जब पेश किया तो जैसे युवाओं में बरजोर मस्ती का संचार हो गया. जितने भी गीत फरहान ने इस समय पेश किए, शहर के युवाओं ने हर गीत को अक्षरशः दोहराया.
फरहान अख्तर ने कार्यक्रम की शुरुवात अपनी ताज़ा फिल्म ‘रॉक ऑन-२’ के बेहद लोकप्रिय गीत ‘यू नो वाट आई मीन’ से की, फिर तो जैसे उन्होंने अपने मशहूर नगमों की झड़ी लगा दी, जिसमें ‘मेरा दिल चिल्ला चिल्ला के ये कहे रॉक ऑन…’, ‘मैं ऐसा क्यों हूँ’, ‘तेरी लांड्री का एक बिल’ जैसे एक से बढ़कर एक गीत पेश किए और कर पूरे तीन घंटे शहर के युवाओं को मस्ती के आलम में डुबोए रखा.
बॉक्स: ग्रैफिटी वाल पेंटिंग के विजताओं का सम्मान

नागपुर महोत्सव के अंतिम दिन महानगर पालिका आयुक्त श्रवण हार्डीकर ने ग्रैफिटी वाल पेंटिंग के विजेताओं के नाम घोषित किए. महाविद्यालयीन समूह में प्रियशी गुप्ता एवं समूह को प्रथम, अंकित बिथाले एवं समूह को द्वितीय और मोहम्मद अनस एवं समूह को तृतीय विजेता घोषित किया गया. आयशा सिद्दीकी एवं समूह तथा मयूरी वानकर और उनके समूह को प्रोत्साहन पुरस्कार घोषित किए गए.
शौकिया कलाकारों के समूह में वरुण तापड़िया एवं समूह को प्रथम, चिन्मय प्रधान एवं समूह को द्वितीय तथा अपर्णा राजवैद्य एवं समूह को तृतीय विजेता घोषित किया गया. आकाश वाघमारे एवं उनके दल तथा कृष्णा सिरुगुड़ी एवं उनके दल को प्रोत्साहन पुरस्कार दिए गए. संतोष वाशिमकर के नेतृत्व में मूक-बधिर कलाकारों के समूह को विशेष पुरस्कार प्रदान किया गया.
प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय विजेताओं को क्रमशः दस हजार रूपए, साढ़े सात हजार रूपए एवं पाँच हजार रूपए प्रदान किए गए. प्रोत्साहन पुरस्कार के रूप में प्रत्येक विजेता को ढाई हजार रूपए दिए गए. इस अवसर पर महापौर प्रवीन दटके, विधायक सुधाकर कोहले, स्थायी समिति अध्यक्ष सुधीर राउत, शिक्षा समिति सभापति गोपाल बोहरे एवं आयुक्त श्रवण हार्डीकर के हस्ते पुरस्कारों का वितरण हुआ.
मौके पर कबाड़ से कलाकृति उभारने वाले चौदह कलाकारों का भी सत्कार लिया गया. महानगर पालिका की ओर से आयोजित स्कल्पचर कैंप में इन प्रतिभागियों ने एक से एक कलाकृतियाँ साकार कर सभी को चकित कर दिया था.