| |
Published On : Thu, Nov 8th, 2018

नागपुर के युवाओं के हाँथो से बन रहा दसॉल्ट का फाल्कन 2000 कमर्शियल विमान

कॉकपिट का काम पूरा वर्ष 2021 तक बनकर तैयार हो जायेगा विमान

नागपुर : फ़्रांस की कंपनी दसॉल्ट को लेकर देश में मौजूद राजनीतिक विवाद के बीच कंपनी ने नागपुर के मिहान में अपना काम शुरू भी कर दिया है। इतना ही नहीं कंपनी के अस्थाई प्लांट में फाल्कन 2000 कमर्शियल विमान का काम शुरू हो गया। इस 10 सीटर बिजनस क्लास विमान का कॉकपिट बनकर तैयार हो चुका है। ख़ास है कि इस अत्याधुनिक विमान को बनाने का जिम्मा नागपुर के लोगो के ही हाँथो में है। शहर के लगभग 15 आयआयटी टेक्निशयन असेम्बलिंग का काम संभाल रहे है। कॉकपिट का काम पूरा होने के बाद अब इसके अन्य भागों का काम किया जा रहा है। कंपनी ने नागपुर में बनने वाले विमान का काम पूरा करने के लिए वर्ष 2021 की समयावधि सुनिश्चित की है। विमान के पूरी तरह से तैयार हो जाने के बाद इसे नागपुर एयरपोर्ट से ही उड़ा कर फ़्रांस ले जाया जायेगा।

फ़्रांस की कंपनी दसॉल्ट ने भारत में व्यापार के लिए अनिल अंबानी की कंपनी रिलाइंस एविएशन के साथ संयुक्त करार किया है। दोनों कंपनीयो द्वारा मिलकर शुरू की गई साझा उपक्रम की कंपनी डेस्सो रिलायंस ऐरोस्पेसस लिमिटेड कुल 26 एकड़ में अपने प्रकल्प को स्थापित करेगी। लेकिन फ़िलहाल लगभग एक एकड़ एरिया में अस्थाई प्लांट के माध्यम से फाल्कन 2000 कमर्शियल विमान का निर्माण कार्य शुरू है। रिलांयस एयरोस्पेस ने मिहान में कुल 124 एकड़ जगह ली है। जिसमे धीरूभाई अंबानी ऐरोस्पेस हब को विकसित किया जायेगा।

नागपुर में तैयार हो रहा फाल्कन 2000 कमर्शियल विमान नागपुर में स्थानीय लोगो के हाँथो से तैयार किया जा रहा है। फ़िलहाल 50 के लगभग लोग यहाँ काम कर रहे है। जिसमे प्रबंधन और तकनिकी मार्गदर्शक के रूप में फ़्रांस के ही 12 अधिकारी नियुक्त किये गए है। इनके नीचे काम करने वाले 5 इंजीनियर नागपुर के ही है। जिन्हे ट्रेनिंग के लिए नियुक्ति के बाद फ़्रांस भेजा गया था।

मिहान के जनसंपर्क अधिकारी दीपक जोशी ने नागपुर टुडे को बताया कि DARL ने जून 2018 से अपने यूनिट में मैन्युफेक्चरिंग का काम शुरू किया था। तेज गति से कंपनी काम कर रही है। वर्त्तमान में काम अस्थाई प्लांट में हो रहा है लेकिन बचे 26 एकड़ में स्थाई यूनिट तैयार हो रहा है। नागपुर में अत्याधुनिक एयरपोर्ट के निर्माण का काम शुरू हो गया है। मिहान में हो रहे काम की वजह से नागपुर देश में ही नहीं विदेश में भी ऐरोस्पेस के बड़े हब के रूप में आने वाले दिनों में विकसित होगा।

Stay Updated : Download Our App