Published On : Tue, Aug 21st, 2018

स्वास्थ्य विभाग को ईएसआईसी का बक़ाया महीने भर में देने के पालकमंत्री ने दिए निर्देश

Advertisement

नागपुर: सरकार की ओर से विविध कर्मचारियों, नागरिकों की सेहत का ख़्याल रखने के लिए ईएसआईसी की सहूलिय दी जाती है. शहर के कुछ निजी अस्पततालों ने ये स्वास्थ्य सुविधा नागरिकों को दी है. लिहाजा यह सुविधा देने के लिये निजी अस्पतालों का बक़ाया 5 कोटी 37 लाख रुपए का भुगतान महीने भर में करने के निर्देश पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने स्वास्थ्य विभाग को दिए.

आरोग्यम सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल के 15 लाख 45 हजार 940, आशा हॉस्पिटल के 38 लाख, अश्विनी किडनी एंड डायलिसिस हॉस्पिटल के 2 लाख 55 हजार, केअर हॉस्पिटल के 1 कोटी 45 लाख, सेंट्रल इंडिया इन्स्टिट्यूट के 39 लाख 78 हजार, कुणाल हॉस्पिटल के 1 लाख 72 हजार, समर्पण हॉस्पिटल के 3 लाख 59 हजार, श्रवण हॉस्पिटल के 64 लाख 7 हजार, श्रीकृष्ण हृदयालय हॉस्पिटल के 75 लाख 77 हजार, शुअरटेक हॉस्पिटल के 6 लाख 19 हजार, वोकार्ड हॉस्पिटल के 68 लाख 35 हजार, जेनिथ हॉस्पिटल के 5 लाख 10 हजार रुपए ऐसा कुल मिलाकर 5 कोटी 37 लाख 17 हजार रुपए का बताया स्वास्थ्य विभाग पर है. इस बकाए को महिने भर में देने का निर्देश इस दौरान दिया गया.

Advertisement
Advertisement

मुंबई स्थित मंत्रालय में हुई इस बैठक में स्वास्थ्य राज्यमंत्री विजय देशमुख भी उपस्थित थे. इस बैठक में विदर्भ हॉस्पिटल एसोसिएशन के पदाधिकारी डॉ. राजेंद्र अग्रवाल, डॉ. विजय भोयर, राज उके, पार्थ एस. नाग, डॉ. ललित, डॉ. जिया रहमान, ओमप्रकाश भुजाडे, अतिन पठान व तुषार चिंचमलातकर प्रमुखता से उपस्थित थे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement