Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Jul 30th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    महिलाओं की सशक्ति , देश की उन्नति- मंत्री यशोमति ठाकुर

    प्ले स्कूल के तर्ज पर होगा आंगनवाड़ियों का निर्माण

    गोंदिया।: जिले की महिलाओं और बच्चों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए महिला और बाल विकास विभाग की ओर से अनेक योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू किया जाएगा।

    प्ले स्कूल की तर्ज पर स्मार्ट आंगनवाड़ियों का निर्माण यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है , जहां गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा और पौष्टिक आहार उपलब्ध होगा ऐसी प्रतिक्रिया आयोजित पत्रकार परिषद में व्यक्त करते हुए राज्य की महिला व बाल विकास मंत्री एड. यशोमति ठाकुर ने पूछे गए कई सवालों का जवाब बेबाकी भरे अंदाज में दिया।

    29 जुलाई को मंत्री ठाकुर यह जिले में महिला और बाल विकास योजनाओं की समीक्षा करने पहुंची थी बैठक में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए उन्होंने कहा- जिले में आंगनवाड़ी कर्मचारियों को कोरोना के घर-घर सर्वे के काम से बाहर रखा जाना चाहिए उन्हें पूरा समय आंगनवाड़ी में काम करने दें ।
    जो आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सेवानिवृत्त हो गए हैं उन्हें एकमुश्त लाभ दिया जाना चाहिए तथा बच्चों को समय पर पौष्टिक भोजन दिया जाना चाहिए।
    सभी पात्र लाभार्थियों हेतु ‘मेरी बेटी भाग्यश्री ‘ योजना को तुरंत लागू किया जाए।
    जिले के आदिवासी क्षेत्रों में डा. एपीजे अब्दुल कलाम अमृत आहर योजना को प्रभावी ढंग से लागू किया जाना चाहिए, जिले की महिलाओं और बच्चों की समस्याओं को एक छत के नीचे हल करने हेतु बाल विकास भवन की स्थापना के लिए जिला नियोजन समिति को 1 करोड़ रूपए की निधि का प्रावधान सुनिश्चित करना चाहिए।

    ठाकुर ने कहा- आंगनवाड़ी द्वारा महिलाओं और बच्चों के लिए पोष्टिक भोजन की पर्याप्त आपूर्ति और उसकी गुणवत्ता सुनिश्चित करने पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। आंगनवाड़ियों के रिक्त पदों की जानकारी उपलब्ध कराई जानी चाहिए ताकि रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया में तेजी लाई जा सके।
    मंत्री ठाकुर ने – देवरी , सालेकसा और अर्जुनी मोरगांव के नक्सल प्रभावित तहसीलों में पर्यवेक्षकों के रिक्त पदों को तत्काल भरने के निर्देश भी दिए।

    2 करोड़ 65 लाख के चेक वितरित किए

    मानव विकास कार्यक्रम और महिला आर्थिक विकास निगम द्वारा कार्यान्वित की जा रही वित्तीय सेवाओं के तहत तेजश्री फाइनेंशियल सर्विस के अंतर्गत 1 करोड़ 25 लाख 26 हजार के धनादेश जिले के पांच लोकसंचालित साधन केंद्रों के 28 ग्राम संस्थाओं के माध्यम से 915 अति गरीब परिवारों और 13 स्वयं सहायता समूह को कर्ज स्वरूप मंत्री ठाकुर के हस्ते वितरित किए गए ।

    साथ ही गोंदिया जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक के माध्यम से जिले में 43 स्वयं सहायता समूहों को 1 करोड़ 39 लाख 80 हजार का धनादेश मंत्री ठाकुर के हस्ते सौंपा गया ।

    इस मौके पर माविम के जिला कार्यालय गोंदिया द्वारा वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए वार्षिक प्रगति रिपोर्ट पुस्तिका का विमोचन भी मंत्री ठाकुर ने किया ।
    इस अवसर पर विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे , विधायक सहसराम कोरोटे, जिलाधिकारी डॉ. कादंबरी बलकवड़े , जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेश खवले , महिला व बाल विकास विभाग के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी एच.डी.गणवीर ,महिला आर्थिक विकास महामंडल के जिला समन्वयक अधिकारी सुनील सोसे , जिला महिला व बाल विकास अधिकारी तुषार पौनीकर प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

    रूलर मार्ट से मिला महिला सशक्तिकरण को बल

    ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में महिलाएं स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से संगठित होकर ना सिर्फ एक साथ आई है बल्कि उन्होंने लघु उद्योग भी शुरू कर दिया है।

    स्वयं सहायता समूहों द्वारा उत्पादित वस्तुओं को बिक्री के लिए रूलर मार्ट के माध्यम से बाजार उपलब्ध हो गया है । रूलर मार्ट ने महिलाओं के सशक्तिकरण को आगे बढ़ाने में मदद की है।

    29 जुलाई को सिविल लाइन में नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट के सहयोग से महिला आर्थिक विकास निगम जिला कार्यालय के उद्घाटन समारोह में उक्त आशय के उद्गार महिला व बाल विकास मंत्री एड. यशोमती ठाकुर ने व्यक्त करते नए लांच किए गए रूलर मार्ट में गोंदिया , सालेकसा , तिरोडा , देवरी ,आमगांव , गोरेगांव, सड़क अर्जुनी , अर्जुनी मोरगांव तहसील से 54 महिलाओं के स्वयं सहायता समूह द्वारा बनाई गई 75 विभिन्न वस्तुएं का अवलोकन किया इनमें विभिन्न सजावटी लकड़ी के कलात्मक सामान , बांस कला, गोंडी पेंटिंग , माइक्रोन आइटम , कपड़ा बैग , कपड़े के मास्क, पायदान, चूड़ियां विभिन्न प्रकार के आचार , पापड़ , चाकोली, दालें भी शामिल है ।

    मंत्री ठाकुर ने स्वयं सहायता समूह द्वारा उत्पादित कुछ वस्तुओं को भी खरीदा तथा रजिस्टर बुक में अपनी प्रतिक्रिया भी दर्ज करते महिलाओं की हौसला अफजाई की।

    रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145