Published On : Fri, Apr 7th, 2017

स्मार्ट सिटी के लिए इलेट्स स्मार्ट सिटी समिट कॉन्फरेंस अवार्ड्स एक्सपो का दो दिवसीय सम्मलेन की हुई शुरुवात


नागपुर: 
नागपुर शहर को स्मार्ट सिटी बनने के लिए दो दिवसीय कनक्लेव का आयोजन मनपा की ओर से किया गया है। स्मार्ट सिटी में स्मार्ट ट्रांस्पोर्ट सिस्टम तैयार करने के साथ पेयजल व्यवस्था के इंतेजामों को किस ढंग से बेहतर बनाया जा सकता है चर्चा इस पर केंद्रित रही। इन सभी मुद्दों को लेकर इलेट्स स्मार्ट सिटी समिट कांफरेंस अवार्ड्स एक्सपो का दो दिवसीय आयोजन वर्धा रोड के होटल मेरीडियन में किया गया था। यह कार्यशाला 7 और 8 अप्रैल को रखी गई है। पहले दिन स्मार्ट गवर्नेंस ट्रैक,स्मार्ट एनवायरनमेंट ,एनर्जी, इंफ्रास्ट्रक्चर और हाउसिंग ट्रैक, स्मार्ट कंपोनेंट्स ऑफ़ स्मार्ट सिटीज ट्रैक, स्मार्ट कनेक्टिविटी, ट्रांसपोर्ट एंड मोबिलिटी ट्रैक के सेमीनार का आयोजन किया।

रेन वाटर हार्वेटिंग अर्थात बारिश के पानी को बहने से बचाने और उसका सही ढंग से उपयोग किस तरह से अमल में लाया जाए इस पर भी चर्चा की गई। अमल में लाया जाए। स्मार्ट ट्रांस्पोर्ट व्यवस्था के तहत इस पर भी चर्चा की गई कि लोकल ट्रांस्पोर्ट इतनी बेहतर बनाई जा सके कि नागरिकों को वाहन बाहर ना निकालना पड़े। भविष्य में ट्राफिक जाम की स्थितियों से निबटने में इस ओर सोचना जरूरी है।

कार्यक्रम के मार्गदर्शक मनपा आयुक्त श्रावण हार्डीकर, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव वी. के .गौतम, महाराष्ट्र राज्य के परिवहन आयुक्त प्रवीण गेडाम, मुख्यमंत्री के ओएसडी कौस्तुभ धवसे, जीएसीएल के पी .के .गेरा, लोक निर्माण कार्य विभाग के प्रधान सचिव आशीष कुमार सिंह, जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के सुब्रत पांडा, विजयवाड़ा के म्युन्सिपल आयुक्त जी. विरापंडियन प्रमुख रूप से मौजूद थे। इनमें नागपुर महानगर पालिका के अधिकारी और नगरसेवक भी बड़ी तादाद में उपस्थित थे।