Published On : Sun, May 20th, 2018

क्रेझी केसल: 8 युवक डूबे, दो की मौत, एक गंभीर


नागपुर : पिकनिक के लिए क्रेझी केसल में गए कॉलेज के 7 युवक और 1 महिला पानी में दुब गई। पांच युवाओ को तुरंत मदद मिलने के कारण उनकी जान बच गई। दो युवको कि मौत हुई और एक गंभीर अवस्था में अस्पताल में मौत से जूझ रहा है। यह घटना आज दोपहर 1 से 1.30 बजे के बीच हुई।

अक्षय बिंड (उम्र 19 वर्ष) और सागर गंगाधर सहस्रबुद्धे (उम्र 20 वर्ष) यह मृतकों के नाम हैं। स्नेहल मोरघडे (उम्र 19 साल) इसकी हालत गंभीर है। दोस्तों ने साथ दिया इसलिए नयन पाठराबे, अक्षय अंबुलकर, आदर्श रामटेके, आदित्य खवले बच गए।

अंबाझरी रोड स्थित क्रेझी केसल में रविवार के दिन ज्यादा भीड़ रहती है। क्रेझी कैसल का प्रशासन एक विशिष्ट समय के लिए इस स्विमिंग पूल के पानी में सागर की तरह कृत्रिम लहरें बनाता है। उसमे तैरने का आनंद लेने के लिए रविवार दोपहर अलग-अलग उम्र के सैकड़ों लोग थे। प्रशासन ने विद्युत उपकरणों का उपयोग करके पानी में तरंगें बनाईं। इस दौरान तैरना नहीं आने के बाद भी अक्षय बिंड, सागर गंगाधर सहस्रबुद्धे, स्नेहल मोरघडे, नयन पाठराबे, अक्षय अंबुलकर, आदर्श रामटेके, आदित्य खवले पानी की गहराई में गए। और पानी में डूब गए।

उसके बाद यह बात यश भरद्वाज और ऋतुज देव के ध्यान में आते ही उन्होंने शोर मचाया और प्रशासन से लहरे बंद करने के लिए कहा। फिर मानवी श्रृंखला बनाकर नयन पाठराबे, अक्षय अंबुलकर, आदर्श रामटेके और आदित्य खवले को बाहर निकला। कुछ देर बाद अक्षय, सागर और स्नेहल को भी निकाला गया। प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार यह लोग जब बेहोशी में थे तब भी यहां के कर्मचारी या बाउंसर ने किसी भी तरह से मदद नहीं की। इन दोस्तों ने ही ऑटो बुलाकर वॉकहार्ट अस्पताल ले आए। अस्पताल में अक्षय और सागर को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। स्नेहल पर आईसीयू में इलाज चल रहा है लेकिन उसकी हालत गंभीर है।

घटना की सूचना मिलने के बाद मृतकों के रिश्तेदार और दोस्त बड़ी संख्या में वॉकहार्ट पहुंचे। अस्पतला में ही उन्होंने क्रोध व्यक्त किया। प्रत्यक्षदर्शी ने दी गई जानकारी के अनुसार क्रेझी केसल का प्रशासन इस घटना का जिम्मेदार है ऐसा आरोप लगाया। मृतकों के परिजनों ने क्रेझी केसल पर शिकायत दर्ज करके कड़ी कार्रवाई की मांग की।