Published On : Wed, Jun 21st, 2017

फ्लाई ओवर के लिए खोदी गई सड़क साबित हो रही खतरनाक


नागपुर: नागपुर सुधार प्रन्यास से काटोल रोड स्थित तिडके महाविद्यालय तक फ्लाई ओवर बनाया जाना है. इसके लिए मृदा परीक्षण किया गया. मृदा परीक्षण के लिए सड़क में गड्ढे खोदे गए. लेकिन जहां से ये परीक्षण हो जाने के बाद भी खोदे गए गड्ढे दोबारा ठीक से नहीं भरे गए. ये गड्ढे राह चलते लोगों के लिए हादसे का सबब बनते जा रहे हैं.

बता दें कि सदर का मुख्य रोड होने के साथ यह छिन्दवाड़ा और काटोल को जोड़नेवाली मुख्य सड़क है. यही वजह है कि यहां वाहनों की संख्या भी बहुत अधिक रहती है. बावजूद इन सब के सड़क पर लापरवाही से रख छोड़े गए गड्ढे वाहनों का संतुलन बिगाड़ रहे हैं. दिन के समय तो फिर भी वाहन चालक सम्हाल कर चलता है, लेकिन रात के समय यहां से यातायात जोखिम भरा साबित हो रहा है. उंचे रोड डिवाइडर इस जोखिम को और बढ़ाने का काम कर रहे हैं.

बता दें इस परियोजना का भूमि पूजन मुख्य मंत्री देवेंद्र फडणवीस व केंद्रीय मंत्री नितीन गड़करी के हाथों किया किया गया था. इसके बाद भी कामकाज के दौरान इस तरह की लापरवाही जन समस्या के प्रति लापरवाही को दर्शाता है.