Published On : Fri, Feb 27th, 2015

रामटेक : डा. सेलोकर के कायरोथेरपी क्लिनिक का नागपुर मे सुभारंभ

Dr. Selokar
रामटेक (नागपुर)। गणेशपेठ स्थित बस स्टैंण्ड के पास राहुल काम्पलेक्स में डा. बापू सेलोकर के कायरोथेरपी क्लिनिक का सुभारंभ 21 फरवरी को हुआ. अस्पताल का उद्घाटन पार्षद हर्षला साबले के हाथो हुआ. इस समय प्रामुखता से पुर्व पार्षद मनोज साबले, सुप्रसिद्ध होमिओ चिकित्सक डा. अजय काले, पशुधन विकास अधिकारी डा. दिनकरराव उल्लेवार, डा. अभय वालके, डा. मंजुषा सेलोकर, डा. बापू सेलोकर उपस्थित थे.

डा. बापू सेलोकर ने कहा कि कमर दर्द, गर्दन दर्द, संधिवात, स्लिप डिक्स, लिगामेंट, कारटीलेज डॅमेज, कंधे की जकडन, पैरों तथा एडिओ का दर्द, पिण्डली मे ऐंठन, टेनिस एल्बो, लकवा, सायटिका, सेरेब्रल पलसी, पारकिनसन डिसीज, डिप्रेशन, मानसिक तनाव, तीव्र मायग्रेन, घुटनो का दर्द, मसकुलर डिस्ट्रोफी, मायोपैथी, आदि पर कायरोथेरपी व एक्यपे्रशर द्वारा इलाज किया जाता है. मरीज को बिना दवा चंद दिनो मे आराम मिलता है. उन्होंने कहा कि इस उपचार पद्धती मे पेनकिलर व इंजेक्शन लेने की जरुरत नही है. सिर्फ प्राकृतीक कायरोथेरपी उपचार पद्धती से ही मरीज को जल्द फायदा होता है.

प्रसिद्ध होमो चिकित्सक डा. अभय वालके ने कहा कि मानव चंद्रमा पर गया है. एलोपेथी मे नएनए उच्च तंत्रज्ञान आया है. परंतु अभि भी कुछ रोगो मे पुरा फायदा नही मिलता. मरिजो को सिर्फ पेनकिलर दवाओ के सहारे रहना पडता है. प्राकृतीक कायरोथेरपी उपचार पद्धती से अनेक रोगो का सफलतापुर्वक उपचार बिना दवा से किया जा सकता हैइस पद्धती मे रोगी स्वयं का इलाज खुद भी कर सकते है. लोगो ने कायरोथेरपी उपचार पद्धती अपनाना चाहिए. कायरोथेरपी व एक्यूपे्रशर का इलाज करने वाले कुछ चुनिंदा डाॅक्टर है. उसमे डाॅ. बापू सेलोकर का समावेश है. यह कायरोथेरपी क्लिनिक हर शनिवार को सुबह 9 से 12 व शाम 6 से रात 8 बजे तक व रविवार को सुबह 8 से 10 बजे तक रहेगा.