Published On : Thu, Jun 1st, 2023

लिंग बदल कर डबल आवेदन कर लिया प्रवेश आरटीई मे

आपराधिक मामला दर्ज नहीं करने का नतीजा । नगपुर पंचायत समिति की उदासीनता ।
Advertisement

नागपुर: मुफ़्त शिक्षा के अधिकार में पालक नित नए हथकंडे अपनाने में क़ामयाब तो हो रहे लेकिन हमारी पैनी नज़र से वो चूक नहीं पाएंगे एक और चौंकाने वाला मामला आरटिई एक्शन कमिटी के चेयरमैन मो शाहिद शरीफ़ ने उजागर किया है ।

गौतमी प्रवीण पाटिल 23 NG001348 लड़के के नाम से यह पहली राउंड में प्रवेश हुआ । अब दूसरी बार वैटीग राउंड में दोबारा गौतमी प्रवीण पाटिल के नाम से लड़की के रूप में प्रवेश हुआ इसका नंबर लगा है जिसका प्रमाण 23 NG010857 दर्शाया गया। इस पलक ने हेरा-फेरी कर अपने बच्चे का लिंग बदल कर दो बार आवेदन प्रस्तुत किया एक में लड़का बताया जो पहले राउंड में प्रवेश मिल चुका है और दूसरे आवेदन में अपने बच्चे को लड़की बताया और वो दूसरे राउंड में दोबारा सेलेक्ट हो गया। नियम कहता है कि दो बार आवेदन करने वालों को भी उसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा उसका आवेदन रद्द होगा और उसने दिए गए हामी पत्र के अनुसार उस पर आपराधिक मामला भी दर्ज होगा ।

Advertisement

लेकिन नागपुर पंचायत समिति में ऐसे अनेक मामले हुए लेकिन समिति के अध्यक्ष ने एक भी पालक के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज नहीं किया उसी का कारण है कि ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले पालक नामचीन स्कूल भारतीय विद्या भवन असटी में प्रवेश पाने के लिए हथकंडे अपनाते और उसका खामियाजा ग़रीब पालकों को भुगतना पड़ता है और इस मामले में भी दो ज़रूरत मंद पालक अपने बच्चे के प्रवेश से हाथ धो बैठे हैं।