Published On : Fri, Mar 23rd, 2018

इलाज के बहाने 11वीं की छात्रा से रेप, FIR दर्ज कर किया गिरफ्तार

Representational pic

नागपुर: इलाज कराने के बहाने एक स्टूडेंट से रेप करने वाले आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है। आरोपी ने बीमारी की रिपोर्ट और दवा दिलाने के बहाने जरीपटका क्षेत्र की एक स्टूडेंट को उसके परिवार के साथ रामटेक ले गया था और वहीं के एक लॉज में उससे रेप किया। पीड़िता की शिकायत पर जरीपटका पुलिस ने आरोपी अमर मुन्नालाल गौर के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है। पीड़ित कक्षा 11वीं की छात्रा है। आरोपी अमर आयुर्वेदिक दवाइयां बेचने का काम करता है।

रिपोर्ट लाने के बहाने अकेली लड़की को ले गया
20 मार्च को अमर अपनी कार से दोबारा छात्रा तथा उसके परिजनों को रामटेक लेकर गया। उसने पीड़िता के परिजनों को रामटेक गढ़ मंदिर में छोड़ दिया और वैद्यकीय जांच रिपोर्ट लेने के बहाने पीड़िता को साथ लेकर गया। वह उसे रामटेक के एक लॉज में ले गया। वहां पर उसने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया। घटना के बारे में किसी को कुछ बताने पर पीडिता को जान से मारने की धमकी दी। वह दुष्कर्म करने के बाद वापस रामटेक गढ़ मंदिर गया और उसके परिवार को कार से नागपुर लाया। छात्रा को दूसरे दिन पेट में दर्द होने पर उसने परिजनों को सारी हकीकत बता दी। तत्पश्चात परिजनों ने उसके खिलाफ जरीपटका थाने में शिकायत दर्ज कराई।

नहीं है कोई डिग्री
पुलिस के अनुसार अमर गौर (38) योगी अरविंद नगर, पांडे बस्ती निवासी की पहली पत्नी से तलाक हो गया है। वह दूसरी पत्नी के साथ रहता है। अमर के पास कोई वैद्यकीय डिग्री नहीं होने के बाद भी वह लोगों का आयुर्वेदिक उपचार करता है। वह रोज बस्तियों में घूम-घूम कर यह धंधा करता है। करीब दो वर्ष पहले अमर की पीड़िता से पहचान हुई। वह उसके घर आने-जाने लगा। पीड़िता उसे मामा मानती है। कुछ दिन पहले पीड़ित छात्रा के पेट में दर्द होने पर वह वैद्यकीय जांच कराई, तो पता चला कि उसे किडनी में स्टोन की बीमारी है। इस बारे में छात्रा के परिजनों ने अमर से चर्चा की, तो आरोपी ने बताया कि इसका आयुर्वेदिक उपचार है। उसने दवा के लिए रामटेक जाने की बात की। इस बहाने से वह पीड़िता और उसके परिवार को दो बार रामटेक लेकर गया, लेकिन वह अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सका।