Published On : Sat, May 9th, 2020

विभागीय आयुक्त के मार्गदर्शन में परप्रांतियों को घर पहुंचा रहे जिलाप्रशासन

विभागीय आयुक्त संजीव कुमार,जिलाधिकारी रविन्द्र ठाकरे,पुलिस आयुक्त भूषण कुमार उपाध्याय,अपर पुलिस आयुक्त नीलेश भरणे,आरटीओ का संयुक्त निर्णय पर हंसा समूह का प्रयास

नागपुर – नागपुर जिले में रह रहे अन्य राज्यों के विद्यार्थी,कामगारों को उनके गृह नगर तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन ने केंद्र व राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन कर एक अहम निर्णय लिया। इस निर्णय के तहत नगर की चर्चित सार्वजनिक परिवहन सेवा देने वाली निजी समूह मेसर्स हंसा ट्रेवल्स के माध्यम से पिछले सप्ताह से सेवा शुरू की गई।

प्राप्त जानकारी के कोरोना वाइरस के चलते इच्छुकों को परप्रांतियों (मध्य प्रदेश) को उनके गृह नगर पहुंचाने की मांग को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया।इस संदर्भ में विगत दिनों एक महत्वपूर्ण बैठक में विभागीय आयुक्त डॉक्टर संजीव कुमार,कलेक्‍टर रविन्द्र ठाकरे, पुलिस आयुक्त डॉक्टर भूषणकुमार उपाध्याय, अपर आयुक्त निलेश भरणे और आरटीओ अतुल अडे और देशपांडे,उप जिलाधिकारी काताडे आदि उपस्थित थे।

हंसा वाहन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जयप्रकाश पारीक ने बताया कि उक्त आला अधिकारी के निर्देशों पर हंसा समूह ने प्रवासियों, छात्रों और पर्यटकों को उनके घर पहुंचाने की चुनौती न सिर्फ स्वीकार की बल्कि सरकार की पहल का समर्थन किया। इन मुश्किल समयों में कोविद 19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में सरकार के साथ नागरिकों का साथ देते हुए हंसा समूह के संचालक द्वय दिलीप छाजेड़, आदित छाजेड़,मुख्य कार्यकारी अधिकारी जयप्रकाश पारीक सह शर्मा, अनूप कश्यप, हंसा टीम के विकास कनौजिया सक्रिय हैं।

विगत सप्ताह से अबतक 28 बस जिसमें से 2 जबलपुर,4 बालाघाट, 4 सिवनी,
2 बस बैतूल,
3 बस छिंदवाड़ा,1 दतिया,
1 बस मुरैना,
2 रीवा,2 सतना,1 मंडला के लिए रवाना किया गया। उल्लेखनीय यह हैं कि जबतक प्रशासन का उद्देश्य पूर्ण नहीं होता तबतक हंसा वाहन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड समूह की सेवा जारी रहेंगी।