Published On : Fri, Dec 23rd, 2016

सन 2056 की जनसंख्या के हिसाब से होगा कन्हान नगर परिषद् का विकास – पालकमंत्री

mallikarjun-reddy-and-palakmantri-bawankule-2
नागपुर :
ग्राम पंचायत से नगर परिषद् में रूपांतरित कन्हान शहर का विकास वर्ष 2056 की जनसंख्या के हिसाब से किया जाएगा और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि इस विकास काम में निधि की कमी आड़े न आने पाए। उक्ताशय के उद्ग़ार नागपुर जिले के पालकमंत्री एवं राज्य के ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कन्हान नगर परिषद् की प्रस्तावित प्रशासकीय इमारत के भूमिपूजन के बाद व्यक्त किए।
कन्हान नगर परिषद् इमारत का भूमिपूजन पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता नप अध्यक्ष आशा पणिकर ने की, विशेष अतिथि के रूप में विधायक डी. मल्लिकार्जुन रेड्डी, जिप.अध्यक्ष निशा सावरकर, उपाध्यक्ष शारद डोणेकर, जिप. सदस्य कल्पना चाहंदे ,टेकचंद सावरकर उपस्तित थे। मंच पर प्रमुख रूप से तहसीलदार /प्रभारी मुख्याधिकारी बाला टेढ़े, नप के सभापति द्वय गेंदलाल काठोके, लक्ष्मी लाडेकर, सुषमा चोपकर, पार्षद शंकर चाहंदे, नरेश बर्वे, राजेश यादव, वर्धराज पिल्ले, करुणा आष्टणकर, वैशाली डोणेकर, संगीता खोब्रागडे, नीतू गजभिये, राखी परते, अनिता पाटिल, मनोज कुरडकर, अजय लोंढे, राजेंद्र शेन्दरे उपस्थित थे।

कन्हान विकास में किए जाने वाले काम
कन्हान नप अंतर्गत विकास कार्यों में प्रमुखता से अगले 2 वर्षो में 24×7 जल योजना, तारसा रोड रेलवे क्रॉसिंग पर ओवर ब्रिज, गरीबों के लिए आवास योजना, बाजार के लिए जगह, कचरा मुक्त शहर, सड़क, भूमिगत नालियां, भूमिगत बिजली के तार, कन्हान -नागपुर 6 लेन की सड़क, बुट्टीबोरी-कन्हान मेट्रो, प्रशासकीय कार्यलय के लिए जगह, सीबीएससी स्कूल, पत्रकार भवन, आदि कार्य करने का आश्वासन देकर इन कार्यों और इसके साथ ही समूचे कन्हान नप क्षेत्र के विकास की जिम्मेदारी पालकमंत्री ने ली।

mallikarjun-reddy-and-palakmantri-bawankule-3
भूमिपूजन कार्यक्रम भाजपा मय

कन्हान न.प.के नए प्रसाशकीय इमारत भूमिपूजन का कार्यक्रम भाजपामय रहा। कॉंग्रेस के एक पार्षद को छोड़ कर नगराध्यक्ष सहित अन्य पार्षदों के साथ ही तहसीलदार तथा प्रभारी मुख्याधिकारी बाला साहब टेढ़े व नप कर्मचारी भाजपा कार्यकर्तायों के भगवा फेटे में समारोह में उपस्थित रहे। गौरतलब है कि प्रशासकीय अधिकारियों और कर्मचारियों को इस तरह से किसी राजनीतिक दल विशेष के परिधान या परिधान विशेष से बचने की हिदायत होती है, लेकिन इस कार्यक्रम में नेता और अधिकारी एक ही रंग में रंगे नजर आए।

mallikarjun-reddy-and-palakmantri-bawankule-1`