Published On : Thu, Nov 30th, 2017

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने की उत्तर भारतीयों की तारीफ, MNS को नहीं आई रास

CM Devndra Fadnavis
मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुंबई में उत्तर भारतीयों एवं अन्य राज्यों से आए लोगों के योगदान की प्रशंसा की, जिसे लेकर राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) ने कड़ी आलोचना की है। फडणवीस ने कहा कि देश की वित्तीय राजधानी ने हमेशा कई लोगों को रहने की जगह दी है और जो लोग यहां रहते हैं उन्होंने शहर की प्रतिष्ठा को बढ़ाने में योगदान दिया है।

बुधवार को घाटकोपर इलाके में आयोजित सार्वजनिक कार्यक्रम में फडणवीस ने कहा, ‘मेरा मानना है कि मुंबई को जो चीजें महान बनाती हैं उनमें विभिन्न राज्यों से यहां आकर बसने वाले वे लोग भी शामिल हैं। उन्होंने भी मुंबई को महान बनाया है।’

सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘आज जब हम मुंबई और महाराष्ट्र की बात करते हैं तो हम तुरंत उत्तर भारतीय समुदाय की ओर देखते हैं। इस शहर ने हमेशा कई लोगों को रहने की जगह दी है और जिन्होंने यहां आश्रय पाया उन्होंने हमेशा शहर की प्रतिष्ठा में इजाफा ही किया है।’

मुख्यमंत्री फडणवीस की बातों की आलोचना करते हुए एमएनएस नेता नितिन सरदेसाई ने कहा कि फडणवीस ने जो कहा है उसका सीधा सा मतलब है। उनके लिए इन उत्तर भारतीय लोगों का वोट जरूरी है। वह असली मुंबईवालों, किसानों और महाराष्ट्र के लोगों के बारे में चिंतित नहीं हैं।

सरदेसाई ने दावा किया कि ऐसी टिप्पणियां उत्तर भारतीयों के वोटों को ध्यान में रखकर दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई और महाराष्ट्र हमेशा से महान रहा है। अन्य राज्यों से लोगों को यहां आकर इसे और अधिक महान बनाने की कोई आवश्यकता नहीं थी। एमएनएस नेता ने कहा, वे (उत्तर भारतीय) अपनी आजीविका चलाने के लिए मुंबई आए क्योंकि उनके राज्यों में कोई विकास नहीं था। फिर कैसे वे मुंबई को महान बना रहे हैं।