Published On : Wed, May 27th, 2015

देसाईगंज : रेलवे विभाग ने शुरू किया उपभोक्ता पखवाड़ा

railway station wadasa  (1)
देसाईगंज (गड़चिरोली)। रेलवे प्रशासन द्वारा 26 मई से 5 जून तक उपभोक्ता पखवाडा शुरू किया. इस पखवाडे के तहत विभागीय स्तर पर विभागीय मंडल रेल प्रबंधक के नेतृत्व में पुरे द.पु.म.रे के नागपुर विभाग में सफाई अभियान शुरू किया गया.

वडसा रेलवे स्टेशन पर वरिष्ठ विभागीय अभियंता पी.वी.वी. सत्यनारायण के नेतृत्व में कनिष्ठ अभियंता जितेंद्र घोडेस्वार, स्टेशन मास्टर सी.एन. बोडे, सहायक स्टेशन मास्टर रितेश कुमार, दानिश अख्तर, धनराज पांडव, बुकिंग मास्टर रमेश परते, जगन्नाथ मेंढे, रेखा मैडम, राजीव कुमार,पोटर मोहन, सफाईकर्मी मीनाबाई, रेल सलाहकार समिति के सदस्य विष्णु वैरागड़े, भरत जोशी आदि उपस्थित थे.

रेल विभाग द्वारा 26 मई से शुरू किये गए उपभोक्ता पखवाडे के तहत सभी वरिष्ठ अधिकारी पुरे पंद्रह दिन तक विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर जाकर सफाई अभियान से लेकर समस्याओं को लेकर जनता से जुड़ेंगे साथ ही सफाई अभियान में जनता से जुड़ने का आवाहन करेंगे. स्टेशनों पर यात्रियों को हो रही समस्याओं को जानकर उसको हल करने का प्रयास करेंगे. इसी तर्ज पर देसाईगंज रेल परिसर में सफाई अभियान चलाया गया.

साथ ही अब रेल परिसर में गंदगी फेंकने तथा फैलानेवालों पर कडी कार्रवाई किये जाने की बात इस समय सत्यनारायण ने कही. इसके लिए उन्होंने नागभीड़ से आरपीएफ के जवान की तैनाती किये जाने की जानकारी दी. ऐसे में अब रेल परिसर में गंदगी करनेवाले पर जुर्माना या फिर प्राथमिकी दर्ज किये जाने की चेतावनी देते हुवे रेल परिसर में कचरा फेंककर गंदगी न फ़ैलाने की अपील की.


railway station wadasa  (2)
रेल सलाहकार समिति ने दिया विविध मांगों का ज्ञापन

इस कार्यक्रम के दौरान वडसा स्टेशन की रेल सलाहकार समिति द्वारा विविध मांगों को लेकर विभागीय मंडल रेल प्रबंधक के नाम से ज्ञापन दिया. ज्ञापन में दरभंगा-सिकंदराबाद एक्सप्रेस का स्टापेज वडसा स्टेशन पर देने, शहर के रेलवे द्वारा दो भागों में विभाजित किये जाने के चलते बाधित हो रहे यातायात को सुचारू रूप से शुरू रहने के लिए कई दिनों से कछुआ गती से चल रहा है. भूमिगत पुलिया का कार्य जल्द से जल्द पूर्ण करने, वडसा स्टेशन पर पुनः आरपीएफ चौकी शुरू करने, वडसा स्टेशन पर शुरू रैक पॉइंट हेतु अलग रेल पटरी बिछाकर स्टेशन पर यात्रियों को हो रही आवाजाही में दिक्कतों को दूर करने तथा रेलकर्मियों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाने की मांग की गई.

रेल से हो रही तस्करी पर कार्रवाई
साथ ही सत्य नारायण से हुवे वार्तालाप में रेल के जरिये जिले में शराब बंदी होने के बाउजूद हो रही तस्करी रोकने की मांग की गई. साथ ही बगैर टिकट जा रहे यात्री परिवहन पर भी कार्रवाई की मांग की गई. जिससे रेल प्रशासन को हो रहा नुकसान रोका जा सके.