Published On : Wed, Nov 3rd, 2021
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

वेकोलि के वनी नार्थ के महाप्रबंधक को बरखास्त करने की मांग

सीएमडी को मांगों का ज्ञापन सौंपा जाएगा

नागपूर: कोल इंडिया लिमिटेड की सभी अनुसांगिक सहायक कंपनी वेस्टर्न कोल फिल्ड्स लिमिटेड वनीनार्थ के GM सुनिलकुमार को बरखास्त करने की मांगों का मुख्य प्रबंध निदेशक का ज्ञापन सौंपा जाएगा . आल इंडिया सोसल आर्गनाईजेशन के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार श्री टेकचंद सनोडिया शास्त्री ने विज्ञप्ति मे बताया कि यह महाप्रबंधक नियमों का खुल्लम खुल्ला उलंघन करके वेकोलि लाखों-करोडों का चूना लगा रहा है। बताते है कि वेकोलि माजरी येरिया मे ब्लैकलिष्ट फर्म को वनीनार्थ येरिया मे वाहनापूर्ति का ठेका दे दिया गया। इसमें टेंडर कमेटी भी जिम्मेदार है।इतना ही नही वनीनार्थ येरिया मे किराया के अधार पर वाहन चलाने का ठेका अनेक ट्रवल्स एजेन्सियों को दिया गया है।

जबकि अधिकांश चालकों के पास ट्रांस्पोर्ट गाडी चलाने का लाईसेंश भी नही हैlपिछले सप्ताह वेकोलि येरिया मे तीन मर्तबा उक्त गाडियों से दुर्घटनाएं हूई थी,जिसमे वेकोलि के कर्मचारी जख्मी हुए थे,क्योंकी गाडी चालक अनुभवहीन होने के कारण उनके पास लाईसेंश भी नही थे,वे बिना लाईसेंश के वाहन चला रहे थे,आर्गनाईजेशन का आरोप है कि यह पूरा मामला महाप्रबंधक सुनिलकुमार की मिलिभगत और लालफीताशाही नीतियों का नतीजा साबित हो चुका है। क्योंकी उक्त मामले पर कार्यवाई करवाने की वजाय सुनियोजित तरीके से प्रकरण को रफा दफा करवा दिया गया.उसी प्रकार वाहन चालकों को मात्र पांच से छह हजार रुपये मासिक पगार दिया जा रहा है,जबकि वेकोलि मे बिल भुगतान के लिए मासिक रुपये 16000( सोलह हजार रुपये) दर्शाया जा रहा है।वेकोलि के अनेक ठेकेदार अपने वाहन श्रमिकों का पगार १६००हजार रुपए श्रमिकों के बैंक खाते डालते है और बाद में एटीएम कार्ड के जरिए रुपए १०,००० निकाल लिया करते हैं।


यदि सीसीटीवी कैमरे की जांच-पड़ताल की गई तो असलियत का फर्दाफाश हो सकता हैं। इतना ही नही जो चालक वाहन चला रहा है,उसकी जगह अन्य चालकों का नाम दर्शाकर बोगस पी एफ चालान दर्शाया जा रहा है, इस प्रकार गैरकानूनी कार्यप्रणालियों के जरिए सरकार को करोडों रुपये की खपत लगाया जा रहा है, नियम के अनुसार कार्यादेश जिस ट्रवल्स एजेन्सियों के नाम जारी किया है,उसी के नाम पर वाहन रजिस्टर्ड होना अनिवार्य है,परंतु प्रत्यक्ष मे पुराने वाहन किसी और के नाम से चलाए जा रहे है,उक्त कार्यों के बिलों का भुगतान वेकोलि के संबंधित जिम्मेदारी अधिकारियों के समक्ष किया जा रहा है,यह गैरकानूनी कार्यप्रणालियों की वजह से वेकोलि को कानुन के कटघरे मे खडा कर देने वाला है।, परिणामतः वेकोलि के वनी नार्थ के क्षेत्रीय प्रबंधक एवं महाप्रबंधक को बरखास्त की मांग करना जायज समझा जा रहा है.