Published On : Thu, Sep 13th, 2018

वरली सट्टे के अड्डे पर छापा

नागपुर: डीसीपी जोन-2 चिन्मय पंडित को जानकारी मिली थी कि मानकापुर थानांतर्गत सादिकाबाद कालोनी में पासपोर्ट आफिस के पास बाल्या चौधरी के मकान में तुलसी मसराम का वरली सट्टापट्टी का अड्डा चल रहा है. खबर मिलते ही उन्होंने अपने परिमंडल के पुलिस स्टेशन से अधिकारी-कर्मचारी जमाकर विशेष दस्ता बनाया. दोपहर 3 बजे के दौरान पंडित के नेतृत्व में दस्ते ने छापा मारा. 13 लोगों को कल्याण और प्रभात नामक वरली सट्टे पर खायवाली और लगवाड़ी करते दबोचा गया.

पकड़े गए आरोपियों में झिंगाबाई टाकली निवासी रजत मोहोड़े (19) गोदावरी झोपड़पट्टी निवासी शेख शहबाज शेख हारुन (18), हमीद यूसुफ खान (23), जाफरनगर निवासी अनिल बघेल (40), पाचनल चौक, रामबाग निवासी अंकुश वासनिक (31), नवजीवन कालोनी झोपड़पट्टी निवासी बंटी उइके (34), ढिवर मोहल्ला, झिंगाबाई टाकली निवासी सुधाकर नान्हे (51), तकिया धंतोली निवासी दिलीप सोनटक्के (35), गीतानगर, फरस निवासी विलास बड़पात्रे (35), स्वागतनगर निवासी अहतेशाम गुलशन खान (30), मातानगर, झिंगाबाई टाकली निवासी इमरान खान वसीम खान (32), अवस्थीनगर निवासी विकास खाडोले (30), इंद्रायणीनगर निवासी मनोज मसराम (36) का समावेश है.

गोधनी निवासी महेंद्र भगत नामक आरोपी फरार होने में कामयाब हो गया. उसकी गाड़ी की डिक्की में न्यायालय के 5 समन्स और तुलसीराम मसराम का 1 समन्स बरामद हुआ. जानकारी मिली है कि यह अड्डा महेंद्र भगत और तुलसीराम मसराम मिलकर चलाते हैं.

सट्टापट्टी के आंकड़े लिखे हुए कागज, नकद, वाहन और अन्य सामान सहित 2.22 लाख रुपये का माल पुलिस ने जब्त किया. सब-इंस्पेक्टर अरुण बकाल, सचिन मत्ते, हेडकांस्टेबल विनोद तिवारी, सुशांत सोलंके, प्रफुल्ल मानकर, रेमंड जेम्स, पंकज निकम, सुधीर मड़ावी, लोकचंद ठाकरे और स्वप्निल फुलझेले ने कार्रवाई को अंजाम दिया. छापे के बाद मानकापुर पुलिस को कार्रवाई की जानकारी दी गई.