Published On : Sat, May 4th, 2019

बॉबी सरदार माकन हत्याकांड : ४ आरोपी गिरपतार, नागपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी

Advertisement

नागपुर ! शहर के बहुचर्चित भूपेन्द्र सिंग उर्फ बाँबी मनमीतसिंग माकन हत्याकांड में पुलिस ने आरोपियों में से चार आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय से सात दिन की रिमांड पर लिया है. पुलिस की ओर से चौदह दिनों की रिमांड चाही गई पर न्यायाधीश श्रीमती आरपी सोरेकर नें केवल सात दिनों की रिमांड मंजूर की. पुलिस सहआयुक्त ने पत्र परिषद में कहा कि पुलिस अभी सायबर क्राईम की टीम के जरिये मृतक और आरोपियों के फोन के सीडीआर भी जांच करेगी ताकि मामले में बेहतर साक्ष्य जुटाये जा सकें. 

पुलिस के अनुसार उपरोक्त हत्याकांड में गिरफ्तार शैलेन्द्रसिंग उर्फ लिटिल सरदारगुरूचरणसिंह लोहिया वय43 बर्ष, गुरूमीत सिंह र्फ बाबूवचनसिंह खोकर वय56 बर्ष ,हरजीत सिंह उर्फ सिट्टू गुरूवचन सिंग गौर, मनिन्दरसिंग उर्फ हनी हरजिंदरसिंह चंडोक नें बाबी माकन की हत्या किया जाना स्वीकार किया है.

Advertisement
Advertisement

पुलिसजिमखाना में आयोजित पत्रपरिषद में नागपुर पुलिस के सहआयुक्त रविन्द्र कदम , अतिरिक्त आयुक्त बीजी गायकर क्राईम ब्रांच के उपायुक्त नीलेश भरणे सहायक आयुक्त सुधीर नंदनवार और वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक नरेन्द्र हिवरे की मौजूदगी में बाबी हत्याकांड के संबंध में जानकारी दी गई. बताया गया किमृतक बाबी माकन की पत्नी परमिंदर कौर वय 40 बर्ष के द्वारा 26 अप्रैल को नागपुर पुलिस के जरीपटकी थानाअन्तर्गत अपने पति की मिसिंग रिपोर्ट दाखल की गई थी. 28 अप्रैल को शहर से  अमरावती मार्ग पर कोंढाली थपोलिसस्टेशन के अन्तर्गत मिली बाबी की लाश की शिनाख्ती के बाद 29 अप्रैल को 00:11 बजे मामला दाखल किया.

पुलिस नें मामले को सुलझाने में काफी सक्रियता दिखाई.विभिन्न स्थानों के सीसीटीवी फुटेज्स का बारीकी से अध्ययन किया. आरंभ में जरीपटका पोलिस स्टेशन और बाद में क्राईम (डिटेक्शन) के दल नें मामले में बहुत सारे सुरागों के आधार पर आरोपियों की खोज की. विभिन्न स्थानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये. पुलिस सह आयुक्त ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है जिसके परिणामस्वरूप इस हत्या के संबंध में समूची जानकारी का खुलासा जल्द ही किया जा सकेगा.

नागपुर पुलिस आयुक्त डा. भूषणकुमार उपाध्याय सहआयुक्त रविन्द्र कदम और काईम डिटेक्शन के उपायुक्त नीलेश भरणे तथा अपराध शाखा की यूनिट नम्बर तीन ने इस मामले में अपनी ओर से गंभीर प्रयास किये और इस मामले के प्रमुख पांच आरोपियों में से तीन आरोपियों लिटिल सरदार गुरमीत खोखर और हरजीत सिंह की नागपुर से गिरफ्तारी की जबकि मनिंदर सिंह उर्फ हनी चंडोक की मुंबई से गिरफ्तारी हुई.एक अन्य आरोपी मनजीत वाडे.जिसकी उम्र 55 बर्ष है अभी फरार बताया गया है.

नागपुर पुलिस के क्राईम डिटेक्शन यूनिट तीन के दल में शामिल सपोनि योगेश चौधरी प्रमोद घोंगे, ज्ञानेश्वर भेदोड.कर, प्रमोद घोंगे पोउनि हेमंत थोरात, नितेश डोर्लिकर ,पोहवा. रफीकखान, शैलेष पाटील ,अरूण धर्मे ,दयाशंकर बिसांद्रे ,राकेश यादव, सफौराजेन्द्र बघेल ,शत्रुधन कडु, शैलेश ठवरे ,सुरेश हिंगणकर ,विठ्ठल नासरे, रामचंद्र कारेमोरे, अनिल दुबे , राजू पोतदार नापोशि श्यामकडु अतुल धवडे., हरीष बाबने, शेख फिरोज, विकास पाठक ,संदीप मावलकर, सूरज भोंगाडे., सुहास शिंगडे.,शेख शरीफ और सत्येन्द्र यादव नें इस मामले में पुलिस की कार्वाहियों को अंजाम दिया.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement