Published On : Wed, Aug 12th, 2020

पहले पॉजिटिव, फिर नेगेटिव, मनपा में हो रहे Covid-19 की टेस्टिंग पर उठ रहे सवाल !

नागपुर– नागपुर में कोरोना ( Covid-19 ) संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे है. लगातार बढ़ रहे मामलों को लेकर अब प्रशासन की लापरवाही भी सामने आ रही है. मनपा की ओर से किए गए एक मनपा ठेकेदार की ( Covid-19 ) की टेस्टिंग रिपोर्ट पॉजिटिव ( Positive ) आयी है. इसके बाद इसी ठेकेदार ने यही ( Covid-19 ) की टेस्टिंग एक निजी हॉस्पिटल में कराई तो वहां की रिपोर्ट नेगेटिव ( Negative ) आयी है.

जिसके कारण मनपा की लापरवाही की एक बार फिर से पोल खुल गई है. मिली जानकारी के अनुसार ठेकेदार मनपा के है और उनके कार्यालय में मनपा के कर्मियों की टेस्टिंग करने के लिए मेयो हॉस्पिटल से एक टीम आयी थी, जिसमें इन्होने भी अपना टेस्ट करवा लिया. मंगलवार 11 अगस्त को इन्होने टेस्ट करवाया था, जिसकी रिपोर्ट बुधवार 12 अगस्त को सुबह मिली, रिपोर्ट में इन्हे पॉजिटिव बताया गया है. इसके बाद यह घर नहीं गए और इन्होने एक निजी हॉस्पिटल में ( Covid-19 ) टेस्टिंग करवाई, जहांपर इनका रिपोर्ट नेगेटिव ( Negative ) आया, इसके बाद इन्होने अपनी पत्नी और बच्चो का भी टेस्ट करवाया, जो नेगेटिव आया. यह अभी कुछ दिन आईसोलेट रहेंगे और कुछ दिनों के बाद आरटी-पीसीआर ( RT- PCR ) टेस्ट करवाएंगे.

इस पुरे मामले में मेयो हॉस्पिटल और मनपा प्रशासन के स्वास्थ विभाग की लापरवाही देखी जा सकती है. कुछ दिनों पहले नागपुर शहर के अलग अलग भागों में मनपा की ओर से ( Covid-19 ) की टेस्टिंग की शुरुवात की गई थी. जिसमें रोजाना कई नागरिक अपनी जांच करा रहे है. जिनके रिपोर्ट पॉजिटिव या फिर नेगेटिव आ रहे है, लेकिन सोचनेवाली बात यह है कि क्या इन जांचो पर भरोसा किया जा सकता है ? अगर जो व्यक्ति नेगेटिव ( Negative ) है और अगर उसका रिपोर्ट पॉजिटिव ( Positive ) आ रहा है, तो इसका यह अर्थ हुआ की अगर कोई व्यक्ति पॉजिटिव ( Positive ) है तो उसका रिपोर्ट भी नेगेटिव ( Negative ) आ सकता है. ऐसे में सवाल यह उठता है की आखिर मेडीकल, मेयो हॉस्पिटल और मनपा की टेस्टिंग में की जा रही है लापरवाही के कारण समस्याएं किसको हो रही है और इसमें जान गवानेवाले लोग कौन होंगे. शायद इनमें ज्यादातर आम नागरिक ही होंगे .


मनपा में जो टेस्टिंग की गई है वह मेयो हॉस्पिटल द्वारा वायरल रिसर्च एंड डाइग्नोस्टिक लेबोरेटरी ( Viral Research And Diagnostic Laboratory ) ने की है, अब इसमें यह देखा जा सकता है की इसमें कई लोगों के मनपा में टेस्ट किए गए है, जिसमें से कुछ लोगों के रिपोर्ट पॉजिटिव आए है तो कुछ लोगों के नेगेटिव . यानी मनपा में किए गए ( Covid-19 ) की टेस्टिंग पर टेस्टिंग करानेवाले कर्मी और अन्य लोग भी भरोसा नहीं कर सकते. मनपा में होनेवाली टेस्टिंग पर भी अब सवाल उठने लगे है.