Published On : Thu, Apr 29th, 2021

कोरोना मरीजों से लूट,मनपा प्रशासन जानबूझ कर नज़रअंदाज कर रहा

– पूर्व महापौर संदीप जोशी भड़के,कहा त्रस्त परिजन इनसे संपर्क करें आनंद-9822204677,शौनक-7447786105,अमेय-9561098052,मनमीत-7744018785,संभवतः शत-प्रतिशत मदद की जाएगी

नागपुर : कोरोना महामारी के वजह से नागपुर शहर-जिले में स्थिति दिनोंदिन चरमरा रही हैं.इस मौके का कुछ चिकित्सक/अस्पताल प्रबंधन भरपूर फायदा उठा रही हैं,अर्थात मरीजों या उनके परिजनों को लूट रही हैं.इस मामले में शहर-जिला प्रशासन गंभीर नज़र नहीं आ रही,इस घटनाक्रम से पूर्व महापौर संदीप जोशी ने एक वीडियो जारी कर झल्लाए।क्षुब्ध होकर जोशी ने मनपा प्रशासन को समय रहते व्यवस्था सुधारने के लिए गुजारिश की अन्यथा प्रशासन गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहने की चेतावनी दे डाली।

पूर्व महापौर जोशी के अनुसार उक्त महामारी से निजात दिलवाने हेतु केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी,पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सह चुनिंदे अस्पताल, अधिकारी निष्पक्ष-निस्वार्थ भावना से सक्रिय हैं तो दूसरी ओर कुछ अस्पताल प्रबंधन कोरोना से ग्रषित मरीजों को भर्ती के नाम पर लाखों की डिपाजिट मांग कर उनका आर्थिक शोषण कर रहे,जो सक्षम हैं

या फिर व्यवस्था कर सकते हैं वे अपने परिजनों की जान बचाने के लिए अस्पताल प्रबंधन के आगे नतमस्तक हैं.जबकि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री का स्पष्ट आदेश हैं कि किसी भी मरीज से डिपाजिट राशि न लेते हुए तत्काल मरीज का इलाज शुरू करें।इतने स्पष्ट आदेश के बावजूद शहर के कुछ अस्पताल स्थानीय प्रशासन/अधिकारियों से मिलीभगत कर खुलेआम लूट जारी रखें हुए हैं.भर्ती करने के पूर्व धड़ल्ले से डिपाजिट ली जा रही हैं.इसके साथ ही इलाज के नाम पर मनमानी शुल्क वसूल रहे.सवाल यह उठता हैं कि क्या इस मामले में राज्य सरकार की नोडल एजेंसी मनपा प्रशासन को सबकुछ भलीभाँति पता होने के बावजूद क्यों नज़रअंदाज कर रही ?


पूर्व महापौर संदीप जोशी के शब्दों में कहा जाए तो उनका साफ़-साफ़ आरोप हैं कि उक्त घटनाक्रम से वाकिफ होने के बावजूद प्रशासन ‘झक मार रही हैं क्या ?’ प्रशासन और लूट मचा रखी अस्पतालों में कोई सांठगांठ नहीं तो ऐसे प्रबंधन/अस्पतालों के खिलाफ खुल कर कार्रवाई करने में क्यों हिचकिचा रही.

जोशी ने आगे कहा कि धूर्त अस्पताल प्रबंधन महामारी में मरीजों का खुलकर शोषण कर रहे,वे 3-3 दिन का बिल डेढ़ लाख से 3 लाख रूपए वसूल रहे.दूसरी ओर मनपा प्रशासन प्रत्येक अस्पतालों में सक्षम ऑडिटर होने का गाजा-बाजा कर अपनी पीठ थपथपाने के साथ उन ऑडिटरों द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार को हवा दे रही.

पूर्व महापौर जोशी ने मनपा प्रशासन को चेतावनी दी कि प्रत्येक अस्पताल के ऑडिटरों को संभाल लें और केंद्र सह राज्य सरकार के 80-20 का नियामवली सह आर्थिक लूट पर अंकुश लगवाए,वर्ना हमें उनके खिलाफ आवाज बुलंद करने को मजबूर होना पड़ेगा।

जोशी ने अंत में कोरोना मरीजों/उनके परिजनों से निम्न 4 मोबाइल क्रमांक पर संपर्क करने की गुजारिश की हैं,गर उनके साथ इलाज के नाम पर कोई धोखाधड़ी/आर्थिक शोषण/या अन्य सुविधा के लिए आदि हो रहा हो तो बेधड़क कॉल कर हमें अवगत करवाए।निश्चित ही शत-प्रतिशत मदद की जाएगी।
आनंद-9822204677
शौनक-7447786105
अमेय-9561098052
मनमीत-7744018785