Published On : Sat, Mar 28th, 2020

कोरोना संकट: दोनों जिलों को 50 लाख स्थानिक विकास निधि देने की घोषणा- पूर्व राज्यमंत्री डॉ. परिणय फुके

( इस अनुदान राशि से जिला शल्यचिकित्सक अंतर्गत अतिआवश्यक विभिन्न किट खरीदी करने के निर्देश )

गोंदिया/भंडारा: वैश्विक आपदा के रूप में संपूर्ण भारत सहित राज्य में संकट के रूप में मंडरा रही जानलेवा कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा अनेको उपाययोजना के तहत कार्य किया जा रहा है, वही जिला प्रशासन, स्वास्थ्य प्रशासन भी तनावपूर्ण माहौल में इस स्थिति से निपटने निरंतर सेवाएं प्रदान कर रहा है।

इस संकट के दौर पर वर्तमान हालातो को देखते हुए पूर्व राज्यमंत्री व गोंदिया-भंडारा के विधानपरिषद सदस्य डॉ. परिणय फुके ने उनके विधानपरिषद क्षेत्र गोंदिया/भंडारा जिले में कोरोना के नियंत्रण हेतु अपनी स्थानिक विकास निधि से 50 लाख रुपये अनुदान जिलाधिकारी गोंदिया को देने की घोषणा की है और इसे त्वरित मान्यता देने के निर्देश दिए है।


विधान परिषद सदस्य डॉ. फुके ने अपने पत्र में लिखा है कि इस निधि के माध्यम से जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु दोनों जिले के जिलाधिकारी जिला शल्य चिकित्सक अंतर्गत अतिआवश्यक सामग्री जैसे, पर्सनल प्रोटेक्टिव किट, एन-95 फेस मॉस्क, ट्रिपल लेयर फेस मास्क, हैंड ग्लब्ज, आइसीयू वेंटिलेटर, थर्मल इमेजिंग स्कैनर व कैमरा, इंफ्रा रेड थरमामीटर आदि की पूर्तता हेतु मंजूरी दी जाए।
एवं जंतुनाशक सेनेटाइजर की खरीदी की जाए।

विशेष है कि 27 मार्च को विधायक डॉ. परिणय फुके ने दोनों जिलों भंडारा, गोंदिया के जिलाधिकारी को 10-10 लाख रुपये की स्थानिक विकास निधि जंतुनियंत्रक में कारगर उपाय मानकर मॉस्क व सेनेटाइजर ख़िरीदी हेतु निधि को मान्यता दी थी। डॉ. फुके लगातार दोनो जिलों पर इस आपदा के तहत नजर बनाए हुए है।

रवि आर्य