Published On : Wed, Sep 17th, 2014

अमरावती : एमबीबीएस में प्रवेश कराने के नाम पर ठगे 22 लाख


Hightech alleged
अमरावती।
एमबीबीएस में प्रवेश कराने का लालच देकर विद्यार्थियों के साथ ठगी करने वाले छह हाईटेक आरोपियों को पुलिस ने पुणे से गिरफ्तार किया है. यह सभी आरोपी मूलत: बिहार के रहने वाले हैं.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम मधुबनी, बिहार निवासी आदित्य झा (28), अभिषेक सूर्यकांत कुमार (26), पप्पू राजकुमार सिंह (20), सुजीतसिंह पिरेंदरसिंह (21), दरभंगा निवासी दीपक झा (20) और लकीसराय निवासी सुरदेवसिंह लालबहादुरसिंह (25) हैं. गौरतलब है कि, डॉ. पंजाबराव देशमुखचिकित्सा महाविद्यालय में एमबीबीएस में प्रवेश कराने का लालच देकर हिमाचल प्रदेश निवासी अविनाश चंदेल (46) से 22 लाखरुपए ऐंठ कर उक्त छह आरोपी गत 10 सितंबर को अमरावती से भाग गए थे. गाडगेनगर पुलिस ने उसी दिन घटना प्रकाश में आने पर मामला दर्ज किया था. यह प्रकरण साइबर क्राइम से संबंधित होने के कारणजांच कार्य आर्थिक अपराधशाखा को सौंपा गया था.

इस मामले जांच को आगे बढाते हुए क्राइम ब्रांच के निरीक्षक प्रमेशआत्राम, सहायक निरीक्षक रवि राठोड., संग्राम भोजने, राजेश राठोड, महेंद्र गावंडे, किशोर महाजन, संतोष यादव, शेखजहीर के दल ने प्रारंभ में शहर की सभी लॉज का जायजा लिया. वहां रुके नागरिकों के पहचानपत्रजमा किए, जिसमें कुछनागरिक बिहार के दिखाई दिए. पुलिस ने इन बिहारी नागरिकों के मोबाइल नंबर का लोकेशन लिया और एक लॉज के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश की. शिकायतकर्ता को फुटेज दिखा कर आरोपियों की शिनाख्त की गई.

सभी आरोपियों के जालसाजी करने के बाद सीधे पुणे भागने की जानकारी मोबाइल के लोकेशन से पुलिस को पता चली. इसके बाद पुलिस का दल तत्काल पुणे रवाना हुआ. पुणे की एक लॉज में आरोपियों के ठहरने का पता चलते ही पुलिस के दल ने जाल बिछा कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के दौरान आरोपियों ने मेडिकल के छात्रके साथ ठगी करने की कबूली दी. पुलिस ने आरोपियों के पास से 1 लाख रुपए नगद जब्त किए हैं. बाकी रकम जब्त करने की प्रक्रिया जारी है. इन आरोपियों द्वारा अमरावती की घटना के अलावा राज्य के कई मेडिकल विद्यार्थियों को ठगने की बात भी पुलिस की पूछताछ में उजागर हुई है.

बी.टेक. है हाईटेक साजिश रचने वाले आरोपी
एमबीबीएस में प्रवेश पूर्व परीक्षा की वेबसाइट हैक कर बी.टेक. के विद्यार्थियों ने हाईटेक प्लान रचकर महाराष्ट्र राज्य के अनेक विद्यार्थियों को ठगा. डॉ. पंजाबराव देशमुख चिकित्सा महाविद्यालय में हुई घटना की पृष्ठभूमि पर पुलिस को यह जानकारी मिली है.

बताया जाता है कि एमबीबीएस में प्रवेश के लिए पहले प्रवेश पूर्व परीक्षा देना अनिवार्य है. इसके लिएविद्यार्थियों को शिक्षा क्षेत्र की जानकारी के साथअपने संपर्क का पता और मोबाइल नंबर देना आवश्यक होता है. इसके मुताबिक हिमाचल प्रदेश निवासी अविनाश चंदेल की बेटी ने पीएमटी की परीक्षा देते समय अपनी संपूर्ण जानकारी अपलोडकी थी और इसी का लाभ उठाकर आरोपियों ने पीएमटी की वेबसाइट हैक कर छात्रा की जानकारी इकट्ठा की थी और उसी जानकारी के आधार पर छात्रा के पिता को कॉल कर मेडिकल प्रवेश संबंधी लालच दिखाकर जालसाजी की गई. पुलिस उपायुक्त सोमनाथघार्गे ने जानकारी देते हुए बताया कि हाईटेक प्लान करने वाले युवक उच्च शिक्षा ले रहे हैं. इन आरोपियों में से दीपक झा फरीदाबाद के अभियांत्रिकी महाविद्यालय में बी.टेक. कर रहा है. सुरदेवसिंह और अभिषेककुमार जयपुर के एक महाविद्यालय में बी.टेक. कर रहे हैं और सुरजीतसिंह बी.टेक. हुआ है.

आदित्य है मास्टरमाइंड
इस घटना का मुख्य सूत्रधार आदित्य झा है. उसी ने साजिशरचकर अनेक विद्यार्थियों को ठगा है. आदित्य फर्जी तौर पर पीडीएमसी के डीन का स्वीय सहायक बना था और पीए का दिखावा कर उसने अविनाश चंदेल से पैसों का व्यवहार किया.