Published On : Fri, Jul 28th, 2017

राज्य शिक्षा विभाग की 9 कक्षा की पाठ्य पुस्तक में बोफोर्स कांड के उल्लेख पर कांग्रेस की आपत्ति


नागपुर
: राज्य शिक्षा विभाग द्वारा 9 वी कक्षा के लिए तैयार की गई पुस्तक में एक चेप्टर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी पर भी है। इस चैप्टर में पूर्व प्रधानमंत्री के निजी और राजनितिक जीवन की जानकारी देते हुए उनके कार्यकाल में हुए बोफोर्स कांड का भी उल्लेख किया गया है। नए शैक्षिणक वर्ष के लिए निकाली गई इस पुस्तक पर कांग्रेस ने आपत्ति दर्ज कराई है और मामले को अदालत तक ले जाया गया है।

9 वी कक्षा की हिस्ट्री एंड पोलिटिकल साइंस की पुस्तक के 6 पेज में राजीव गाँधी से जुड़े इस घटनक्रम को सार्वजनिक किया गया है जिस पर विरोध दर्ज कराते हुए राज्य भर में प्रदर्शन हो रहे है। शुक्रवार को नागपुर स्थित कांग्रेस पार्टी कार्यालय देवडिया कांग्रेस भवन के बाहर यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। नगरसेवक और युवक कांग्रेस अध्यक्ष बंटी शेलके के नेतृत्व में हुए इस प्रदर्शन में आरएसएस, राज्य सरकार और शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े के ख़िलाफ़ जमकर नारेबाजी की गई। युवक कांग्रेस ने इस पुस्तक को तुरंत बंद करने की माँग की है।


अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री विलास मुत्तेमवार ने इसे राष्ट्रीय स्वयंम सेवक संघ का षड्यंत्र करार दिया है। मुत्तेमवार के मुताबिक संघ के इशारे पर विरोधी दल के सभी नेताओं को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। दुर्भाग्यपूर्ण है की इस प्रयास में बच्चो को भी नहीं छोड़ा जा रहा है। बोफ़ोर्स कांड के लगे आरोप अब तक राजीव गाँधी पर साबित नहीं हुए है फिर भी ऐसी हरकतों से देश के पूर्व नेताओं को बदनाम करने का घिनौना प्रयास हो रहा है। ऐसी हरकते बीजेपी शाषित राज्यों में जानबूझ कर किया जा रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी छवि को साफ़ सुथरी और बेहतर बनाने के लिए इस तरह के कामो को खुद करवा रहे है। यह भारतीय लोकतंत्र के लिए शर्मनाक बात है।