Published On : Sat, Jul 20th, 2019

प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी, भड़के कांग्रेसी

नागपुर: यूपी के सोनभद्र में हुए नरसंहार के मृतकों के परिजनों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को पुलिस द्वारा रोके जाने व गिरफ्तार किये जाने से शहर में भी कांग्रेसियों में रोष व्याप्त हो गया. देवड़िया कांग्रेस भवन में सारे कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता जमा हो गए और मोदी-योगी को मनोरोगी बताते हुए उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की. चिटणीस पार्क से अग्रसेन चौक तक नारेबाजी करते हुए रैली भी निकाली.

इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष बबनराव तायवाड़े, नगरसेवक संजय महाकालकर, प्रशांत धवड़, बंटी शेलके, गजराज हटेवार, दिनेश बानाबाकोड़े, रमण पैगवार, हरीश ग्वालवंशी, उज्ज्वला बनकर, मोतीराम मोहाड़ीकर, नंदा पराते, विठ्ठल कोंबाडे, रवि गाडगे, धरम पाटिल, सुजाता कोंबाडे, आकाश तायवाड़े, अनिल पांडे, आनंद तिवारी, रतन रंगारी, सुनील अग्रवाल, रजत देशमुख, राजेश कुंभलकर सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए.

संविधान चौक में भी हंगामा
नितिन राऊत के नेतृत्व में संविधान चौक पर भी सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. राऊत ने कहा कि पूरे देश में अत्याचार, अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं जिसे रोकने में मोदी सरकार पूरी तरह से फेल साबित हो रही है. सरकार केवल लोगों के साथ झूठ और विश्वास को धोखा देने का कार्य कर रही है. पूरा देश बेरोजगारी और कंगाली की तरफ बढ़ रहा है, अर्थव्यवस्था कमजोर हो रही है और किसान आत्महत्या कर रहे हैं लेकिन देश की सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता, सिर्फ लोगों में झूठ और भ्रम फैलाने का काम कर रही है.

इस दौरान जिया पटेल, राहुल पुगलिया, संजय दुबे, आयशा उइके, कमलेश चौधरी, दिनेश यादव, परसराम मानवटकर, राकेश निकोसे, किशोर जिचकार, निजामभाई, सुरेश जग्यासी, ठाकुर जग्यासी, कांता पराते, कमलेश समर्थ, अजीत सिंह, वासुदेव ढोके, तुषार नंदगवली, सलीम खान, राजू सावलानी, फिलीप जायसवाल, रामाजी उईके, सिंधु उईके, अनिरुद्ध पांडे सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे.