Published On : Thu, Nov 17th, 2016

मुलभुत सुविधाओं से महरूम नागरिको ने किया रास्ता रोको आंदोलन

Advertisement

congress-rasta-roko

नागपुर : पश्चिम नागपुर अंतर्गत झिंगाबाई टाकली और मानकापुर रहवासी इलाका मुलभुत सुविधाओं से जूझ रहा है। मनपा और नासुप्र प्रशासन को अनगिनत बार निवेदन देने के बावजूद आजतक किसी के कानों पर जूं तक नहीं रेंगने का आरोप कांग्रेस के नगरसेवक अरुण डवरे ने लगाया है । गुरुवार को नागरिको ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर सादिकबाद, झिंगाबाई टाकली पुलिया पर रास्ता रोको आंदोलन किया गया।

नगरसेवक डवरे ने जानकारी दी कि झिंगाबाई टाकली शहर की पुरानी बस्तियों में से एक है, इस परिसर में सड़क, बरसाती नाले, विद्युत खंबे आदि जरूरतानुसार नहीं है। इस परिसर में रहवासी क्षेत्र रोजाना बढ़ता जा रहा है। नागरिको ने संपत्ति और जल कर नियमित भरे,लेकिन उसके तहत मिलने वाली सुविधा नगण्य है। नागरिको के कर से जहाँ जरुरत नहीं, वहां सीमेंट के सड़को का निर्माण हो रहा है। शहर के 150 वर्ष पुराने गोधनी और मानकापुर शिव मंदिर की सड़क बन नहीं रही। एक और रहवासी क्षेत्रो में बिजली के खंभे नहीं है,तो दूसरी ओर 100 वर्ष तक सेवा देने वाली बिजली की टॉवर लाइन बदलने का प्रयोजन किया जाना निंदनीय है।

Advertisement

आज किये गए रास्ता रोको आंदोलन में प्रज्ञा बड़वाइक,रजनी राऊत, पूनम खाड़े, सरिता हुरमाड़े, श्याम खुले,योगेश पेठे,अजय गोडबोले,राम कलंबे, टामिज़ा शेख, प्रमोद ठाकुर, ज्योति पाटिल, कमला ताई भालेराव, लीला कश्यप, रेखा अम्भोरे, रूपाली पाली, साधना गजभिये, लता कार्नेवार, माया मर्चेट्टीवार, संध्या शर्मा, मंदा कोहपरे, जाकिया शेख, अलका ठवांगले, सिमा मस्के, संतोष राऊत, प्रशांत ठवांगले आदि उपस्थित थे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement