Published On : Sat, May 2nd, 2015

देसाईगंज : नगराध्यक्ष, मुख्याधिकारी, सोम इलेक्ट्रिकल्स के खिलाफ शिकायत दर्ज


देसाईगंज में खलबली, सरकारी रकम की हेराफेरी

देसाईगंज (गड़चिरोली)। देसाईगंज नगरपालिका अंतर्गत विद्युतीकरण के कार्य में सरकारी रकम की हेराफेरी करने के मामले में नगरपरिषद के अध्यक्ष श्याम उईके, मुख्याधिकारी, विनोद जाधव व नागपुर के सोम इलेक्ट्रिकल्स के संचालक प्रकाश सोमलकर के खिलाफ यहां के निवासी यशवंत नाकतोड़े ने शुक्रवार को देसाईगंज पुलिस थाने में लिखित शिकायत दर्ज की. इस घटना से देसाईगंज में खलबली मची है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार देसाईगंज नगरपरिषद के माध्यम से ब्रह्मपुरी व लाखांदुर मार्ग पर डिवाइडर निर्माण करके बीच में विद्युतीकरण का कार्य करने के संदर्भ में चार कार्यों की निविदा मांगी गई. नागपुर के सोम इलेक्ट्रिकल्स द्वारा निविदा स्वीकार करके 11 मार्च 2015 को कार्य का कान्ट्रैक्ट प्रकाश सोमलकर को दिया गया. इस दौरान करारनाना भी किया गया था. लेकिन उक्त दोनों मार्ग पर सड़क डिवाइडर का कार्य नहीं किया गया था. इस वजह से विद्युतीकरण का भी कार्य नहीं हुआ.

उसके बावजूद नगरपालिका से अध्यक्ष व मुख्याधिकारी ने मिलीभगत करके सोमलकर को 64 लाख 72 हजार 565 रूपये दिए. इसमें सरकारी रकम की हेराफेरी होने का आरोप करते हुए नकतोड़े ने नगराध्यक्ष उईके, मुख्याधिकारी जाधव व सोमलवार के खिलाफ शुक्रवार को देसाईगंज पुलिस थाने में शिकायत दर्ज की. शिकायत के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. उक्त शिकायत की प्रति उपविभागीय पुलिस अधिकारी, जिला पुलिस अधीक्षक, गृहविभाग के सचिव, नगर विकास विभाग के सचिव, आर्थिक अपराध जांच विभाग तथा मुख्यमंत्री को भेजी गई है. इस संदर्भ में नगराध्यक्ष उईके से संपर्क करने पर उन्होंने कोई प्रतिसाद नही दिया तथा मुख्याधिकारी जाधव का मोबाईल बंद था.


Representational Pic

Representational Pic