Published On : Mon, Jun 22nd, 2020

फादर्स डे के उपलक्ष्य में प्रतियोगिता का आयोजन

विश्व सिंधी सेवा संगम द्वारा अनूठा उपक्रम।

नागपुर: पूरे विश्व के सिंधी समाज की सर्वोच्च संगठन विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र राज्य द्वारा लॉक डाउन में घर बैठे सिंधी समाज और अपनी टीम के सदस्यों को सक्रिय करने और सिंधी बोली सिंधी संस्कार को बढ़ावा देने के लिए अनूठी प्रतियोगीता का आयोजन किया।।विश्व सिंधी सेवा संगम के महाराष्ट्र के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने बताया कि एक प्रतियोगिता दादा दादी नाना नानी के साथ बच्चों का प्यार दर्शाते हुए हम आपसे प्यार करते है का वीडियो बनाकर भेजने और उसी तरह फादर्स डे के दिन अपने पिता के प्रति प्यार दर्शाता हुआ

वीडियो बनाने की कंपीटिशन का आयोजन किया।इस की चीफ प्रोजेक्ट विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र की महिला उपाध्यक्ष डॉ हिना मुनियार थी।मोटवानी ने बताया इन दोनों प्रतियोगिताओं को जबरदस्त प्रतिसाद मिला भारी संख्या में पूरे देश से वीडियो प्राप्त हुए।बच्चों द्वारा सिंधी भाषा मे अपने नाना नानी दादा दादी और अपने पिता के प्रति जो प्यार जताया गया

वह अनूठा था।।प्रथम स्थान में इंदौर की मंजू रामचंदानी ,प्रियांशी रामचंदानी, दिव्तीय स्थान पर गोंदिया की नीलिमा प्रदीप कोडवानी, और नागपुर के रोहन जयंत सुनीता जेसवानी, तृतीय स्थान पर वेदिका निवेदिता और आशा सुरेश भोजवानी, और मुम्बई से जूही चतरानी को पुरस्कृत किया गया कुल 13 वीडियो को विजयी घोषित किया गया।।डॉ हिना मुनियार ने बताया की सभी प्रतियोगियों को विश्व सिंधी सेवा की तरफ से सर्टिफिकेट प्रदान किये जायेंगे।।पूरी प्रतियोगिता को नागपुर शहर विश्व सिंधी सेवा संगम के अध्यक्ष वीरभान केवलरमानी ने किया।।।मोटवानी के अनुसार विश्व सिंधी सेवा संगम के अंतराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ राजू मनवानी द्वारा 8 बेस्ट वीडियो का चयन किया गया।

अधिवक्ता श्रीमती राजश्री श्याम देवानी और डॉ उषा असनानी ने निर्णायक की भूमिका निभायी।।अतिशीघ् फादर्स डे प्रतियोगिता के नतीजे घोषित होंगे।।विश्व सिंधी सेवा संगम के इस अनूठी प्रतियोगिता की सर्वत्र सराहना हो रही है।