Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

    Nagpur City No 1 eNewspaper : Nagpur Today

    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Jul 6th, 2020

    मजदूरों को वापस काम पर बुलाने के लिए फ्लाइट टिकट, खाना और फ्री रहने को दे रही हैं कंपनियां

    नागपुर– कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के कारण देश में अचानक लॉकडाउन किया गया था. 2 महीने चले लॉकडाउन की वजह से लगभग सभी दुकानें, इंडस्ट्री और कंपनियां (Business Activity) बंद हो गईं. जिसके कारण मजदूरों और कम तनख्वाह वाले लोग बेसहारा और बेरोजगार हो गए. काम नहीं होने के कारण मजदूर अपने गांव को जाने लगे. कोई साइकिल से घर पहुंचा तो लाखों लोग पैदल ही हजारों किलोमीटर चले. अब अनलॉक शुरू हो चूका है कंपनियां खुल गई हैं और अब मजदूरों को वापस बुला रही हैं, लेकिन वे वापस आने में हिचक रहे हैं.

    कंपनियां प्रवासी मजदूरों को वापस बुलाने के लिए तरह-तरह के प्रलोभन दे रही हैं. हालांकि कुछ कंपनियां शहरी क्षेत्रों में श्रमिकों को आकर्षित करने के लिए मुफ्त यात्रा टिकट, आवास और भोजन जैसे लाभों का वादा कर रही हैं. अन्य लोग आस-पास के स्थानों से नए लोगों को नौकरी पर रख रहे हैं.

    यहां तक कि कंपनियां गांव के प्रमुख से भी बात कर रही हैं कि लोगों को काम के लिए भेजें. बदले में कंपनियां मजदूरों की सुरक्षा सुनिश्चित कर रही हैं और साथ ही उनके आने-जाने की व्यवस्था भी खुद ही करने को तैयार हैं. बहुत से मजदूरों ने लौटने की इच्छा भी जताई है, लेकिन ऐसा करने के लिए कंपनियों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है.

    मजदूर मिलने में आ रही है दिक्कत
    राष्ट्रीय रियल एस्टेट डेवलपमेंट काउंसिल की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष राजन बंदेलकर ने बताया कि श्रम की कमी ने निर्माण परियोजनाओं को प्रभावित किया है, जिसको अब पूरा होने में समय लगेगा. वहीं मुंबई की एक फार्मा कंपनी ने पिछले तीन महीनों में लेबर की बहुत दिक्कत झेली है. जिसके बाद वह अपने कर्मचारियों को आने जाने के लिए बस की सुविधा तक मुहैया करा रही है. केईसी इंटरनेशनल के एमडी और सीईओ विमल केजरीवाल बताते हैं कि उनकी कंपनी के करीब दो तिहाई मजदूर वापस आ चुके हैं. वह बताते हैं कि कंपनी की तरफ से मजदूरों के परिवारों और गांव के सरपंचों को मजदूरों की सुरक्षा का वादा किया जा रहा है. केजरीवाल बताते हैं कि कुछ इलाकों में तो मजदूरों को फ्लाइट से भी वापस लाया जा रहा है.

    मजदूरों को ये सुविधा दे रही हैं कंपनियां ?
    >> मजदूरों को वापस लाने के लिए बस और ट्रेन से आगे बढ़कर कंपनियां फ्लाइट्स से भी वापस बुला रही हैं.
    >> कंपनियों की ओर से मजदूरों को रहने के साथ-साथ तमाम तरह की सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं.
    >> मजदूरों को वापस लाने के लिए कंपनियां दोनों जगहों के अधिकारियों से इजाजत ले रही हैं.

    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145