Published On : Fri, Sep 4th, 2020

मुख्यमंत्री ने नागपुर विभाग में आयी बाढ़ से क्षतिग्रस्त लोगों को 16 करोड़ 48 लाख रुपये की अर्थसहायता की दी मंजूरी

Uddhav

मुंबई :- नागपुर विभाग में 30 अगस्त से 1 सितंबर की अवधि में बाढ़ के कारण जो हालात निर्माण हुये है, उससे बाधित नागरिकों को तत्काल मदद देने के लिए 16 करोड़ 48 लाख 25 हजार रुपए निधि वितरित करने को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज मंजूरी दी है।

इस निधि से बाढ़ की स्थिति के कारण बाधित नागरिकों को तत्काल सानुग्रह अनुदान, मकान क्षतिग्रस्त होने पर मदद और मदद छावनी में दाखिल नागरिकों को खाना, पानी और चिकित्सक देखभाल आदि सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

बाढ़ के कारण कई जगहों पर नागरिकों के मकान बाढ़ में क्षतिग्रस्त हुये है तथा कई लोगों के मकान पानी में डूब गए है। साथ ही सामान का भी नुकसान हुआ है। इसके अलावा कई जगहों पर झोपड़ियों को भी क्षति पहुंची है।

आज घोषित हुई निधि से मृत व्यक्ति के परिवार को सहायता एवं घायलों को मदद और नैसर्गिक आपदा के कारण मकान पूरी तरह से पानी में बह जाने पर तथा उनका नुकसान होने पर, इसके लिए तकरीबन 8 करोड़ 86 लाख 25 हजार, अंशतः क्षति होने पर कच्चे / पक्के मकान एवं पूरी तरह से नष्ट हुआ है, ऐसे झोपडी तथा मकान को अर्थसहायता देने के लिए 7 करोड़ 15 लाख रुपए, मदद छावनियों को चलाने के लिए 47 लाख रुपए, इस तरह से कुल 16 करोड़ 48 लाख 25 हजार रुपए निधि बाढ़ पीड़ितों के लिए दी जाएगी।