Published On : Tue, Mar 3rd, 2020

गर्मी शुरू होते ही 120 टैंकर बंद करने से मची त्राहि-त्राहि

Advertisement

आयुक्त मूढ़े ने महापौर सह संबंधितों को पक्ष में नहीं लिया

नागपुर – मनपा प्रशासन पिछले कई वर्षों से नॉन नेटवर्क एरिया में रोजाना टैंकर द्वारा जलापूर्ति की जा रही थी। आयुक्त ने महापौर,उप महापौर,स्थाई समिति सभापति,पक्ष-विपक्ष नेता सह जलप्रदाय समिति सभापति से इसकी समीक्षा/सूचना किये बिना अचानक 120 टैंकर बंद कर दिए।

Advertisement

याद रहे कि पूर्व,दक्षिण नागपुर सह हुडकेश्वर-नरसाला क्षेत्र के नॉन नेटवर्किंग क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों को जलापूर्ति करने के लिए मनपा द्वारा सैकड़ों टैंकरों से जलापूर्ति की जाती थी। प्रति टैंकर रोजाना 8 से 10 फेरियां लगाती थी। इन क्षेत्रों में नेटवर्किंग का काम शुरू हैं। इसी बीच आयुक्त तुकाराम मूढ़े ने शहर के प्रथम नागरिक सह तमाम बड़े पदाधिकारी सह प्रभावित क्षेत्रों के नगरसेवकों से सलाह-मशविरा किये बगैर 120 टैंकर बंद करने का फतवा जारी किया।

आयुक्त के उक्त फतवे से पूर्व,दक्षिण नागपुर सह हुडकेश्वर-नरसाला क्षेत्र के प्रभावित नागरिकों को अड़चनों का सामना हो रहा।क्षुब्ध नागरिकों का मोर्चा नगरसेवकों सह पदाधिकारियों का जीना हराम कर रखा हैं। आज पूर्व नागपुर के कांग्रेस के नगरसेवक पुरुषोत्तम हज़ारे ने आयुक्त मूढ़े से मुलाकात कर पूर्वतः टैंकर शुरू करने की मांग की। अन्यथा उन्होंने चेतावनी दी कि आगामी आमसभा में त्रस्त नागरिकों का मोर्चा ले कर आएंगे। जलापूर्ति सभापति पिंटू झलके ने कहा कि नेटवर्क का काम पूरा होने के बाद बंद किये होते तो प्रभावित नागरिकों में असंतोष नहीं पनपता। जानकारी मिली हैं कि इस संबंध में महापौर संदीप जोशी कल आयुक्त मुंढे से जवाब-तलब करेंगे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisementss
Advertisement
Advertisement
Advertisement