Published On : Mon, Mar 2nd, 2020

बंद पड़ा है क्लाक टावर, 50 लाख रुपये किए थे खर्च

नागपुर: वर्धा रोड पर अजनी चौक पर 50 लाख रुपये खर्च कर क्लाक टावर बनाया गया था. इस टावर से शहर की खूबसूरती में चार चांद लगे थे लेकिन बीते 4-5 वर्षों से यह क्लाक बंद पड़ी हुई है. परिसर का सौंदर्यीकरण विद्रूप हो चुका है. यहां जो लाइटें लगाई गईं थीं, वे सब बंद हो गई हैं.

अंधेरे का साम्राज्य है. मनसे जनहित कक्ष विभाग के अध्यक्ष पंकज हटवार ने शिष्टमंडल के साथ मनपा उद्यान उपायुक्त चौरपगार व विद्युत विभाग के उपायुक्त मानकर से भेंट कर परिसर के सौंदर्यीकरण, बिजली व्यवस्था बहाल करने व घड़ी को दुरुस्त कर जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की है. इस क्लाक टावर पर 50 लाख रुपये खर्च किया गया था. कुछ वर्ष तक तो यह शुरू रहा, लेकिन कुछ वर्षों से यह बंद पड़ा हुआ. मनपा प्रशासन का ध्यान इस ओर नहीं है.

बिजली बिल नहीं चुकाया
पंकज ने बताया कि अधिक जानकारी निकाली तो खुलासा हुआ कि मनपा विद्युत विभाग अथवा धंतोली जोन अंतर्गत आने से परिसर के बिजली बिल का भुगतान नहीं किए जाने के चलते यहां बिजली बंद हो गई है. परिसर दुरवस्था में पहुंच गया है.


मनसे ने मनपा आयुक्त को भी निवेदन भेजकर क्लाक टावर की खोयी गरिमा को वापस दिलाने की मांग की है. शिष्टमंडल में महेश जोशी, इकबाल रिजवी, अरुण तिवारी, पराग सावजी, विकास साखरे, नितिन खानोरकर, पंकज तपासे, परिमल मोरे, जय पाठक, सत्यम मिश्रा, जीतू कडबे, नितिन किटे, जावेद शेख, सुनील ठाकरे शामिल थे.